Weightlifting World Championship में मीराबाई चानू ने रचा इतिहास, टूर्नामेंट में जीता सिल्वर मेडल

ANI Image

ओलंपिक मेडलिस्ट और स्टार वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने वेटलिफ्टिंग में इतिहास रच दिया है। उन्हें 49 किलोग्राम श्रेणी में सिल्वर मेडल अपनी झोली में डाला है। चोट के कारण वो अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पा रही थी।

भारत की स्टार भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने कोलंबिया के बोगोटा में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में 200 किग्रा भार उठाकर सिल्वर पदक हासिल कर लिया है। ओलंपिक सिल्वर मेडलिस्ट ने चैंपियनशिप में इतिहास रचा है। उन्होंने चैंपियनशिप में 200 किलोग्राम का भार उठाया है।

इस दौरान उनका सामना चीन की वेटलिफ्टर जियांग हुइहुआ से हुआ था। मगर मीराबाई चानू की प्रतिद्वंदी ने 206 किलोग्राम वजन उठाया और स्वर्ण पदक पर कब्जा कर लिया। बता दें कि मीराबाई चानू की कलाई में चोट लगी हुई है। इस दौरान उन्हें चोट लगी हुई है जिस कारण मीराबाई अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं कर पा रही है।

मीरा ने उठाया 113 किलो वजन

इस चैंपियनशिप में मीरा ने अपनी चोट के कारण प्रदर्शन पर कोई असर नहीं पड़ने दिया है। स्नैच प्रयास के दौरान वजन उठाते हुए वो संतुलन थोड़ा सा खो बैठी थी, जिसक कारण उन्हें हल्की चोट लगी थी। बता दें कि उन्होंने इस स्नैच राउंड में 87 किलोग्राम का वजन उठाया था। मैच के दौरान उन्होंने कुल 200 किलोग्राम वजन उठाया था और सिल्वर मेडल पर कब्जा किया है।

मीरा ने ओलंपिक चैंपियन को दी मात

भारतीय वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने चैंपियनशिप में ओलंपिक चैंपियन होऊ झिहुई को पछाड़कर रजत पदक पर कब्जा किया है। बता दें कि होऊ झिहुई ने क्लीन और जर्क राउंड में 109 किलो भार उठाया था। स्नैच राउंड में झिहुई ने 89 किलो भार उठाया था, जिससे वो तीसरे स्थान पर रहीं। वहीं भारतीय भारोत्तोलक मीरा बाई चानू ने 113 87 किलोग्राम वजन उठाया था। इसके बाद उन्हें रजत पदक मिला है। जियांग हुइहुआ ने क्लीन एंड जर्क में 113 किग्रा और स्नैच में 93 किग्रा भार उठाकर कुल 206 किग्रा भार उठाकर स्वर्ण पदक जीता है। 

अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *