Video Viral- हाथरस में एसीएमओ के ड्राइवर को आशा कार्यकर्ताओं ने दौड़ा दौड़ाकर चप्पलों से पीटा

चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों पर रुपए लेने का आरोप

चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों पर रुपए लेने का आरोप

दरअसल हाथरस जिले के लहरा गांव निवासी हाकिम सिंह स्वास्थ्य विभाग में चालक के पद पर तैनात है। हाकिम सिंह जिले में तैनात एक एडिशनल सीएमओ की गाड़ी चलाता है। एक माह पूर्व उसके भाई की पत्नी रेनू द्वारा आइजीआरएस पोर्टल पर शिकायत करते हुए आरोप लगाया गया था कि हाथरस जिला महिला अस्पताल में अल्ट्रासाउंड कराने के नाम पर और उपचार के नाम पर चिकित्सक और स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा उससे 12 सौ रुपए लिए गए थे। जबकि सरकार द्वारा यह सभी सुविधाएं मुफ्त दी जाती हैं। रेनू सिंह द्वारा शिकायत किए जाने के बाद मामले की जांच कर इसकी रिपोर्ट अस्पताल प्रबंधन से मांगी गई। इसी मामले में बुधवार को चिकित्सक और स्वास्थ्य कर्मियों से पूछताछ की जानी थी।

आशा और चालक में जमकर हुई थी कहासुनी

आशा और चालक में जमकर हुई थी कहासुनी

बताया जा रहा है कि बुधवार को इस मामले में आशा और स्वास्थ्य कर्मी से पूछताछ की जा रही थी इसी दौरान किसी बात को लेकर जलेसर रोड कांशी राम आवास कॉलोनी निवासी आशा दुर्गेश और एडिशनल सीएमओ के चालक हाकिम सिंह के बीच कहासुनी होने लगी। धीरे-धीरे बात बढ़ने लगी और दोनों में विवाद हो गया। अभी बताया जा रहा है कि इस दौरान लोगों में हाथापाई भी हुई थी। फिलहाल बुधवार को किसी तरह चालक और आशा को समझा कर दूर किया गया तथा झगड़े को शांत कराया गया। इसी बात को लेकर नाराज आशा द्वारा चालक के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए अधिकारियों से शिकायत की गई और अन्य आशाओं से भी पूरे मामले को बताया गया।

कार्यालय में पहुंचकर करने लगी पिटाई

कार्यालय में पहुंचकर करने लगी पिटाई

गुरुवार को सुबह में आशा कार्यकर्ता इकट्ठा होकर टीवी अस्पताल में पहुंची। इस दौरान चालक हाकिम सिंह वहीं पर बैठा था। चालक को देखकर आशा कार्यकर्ता उसके पास पहुंची और उससे बुधवार को मारपीट किए जाने के बाबत पूछताछ करने लगी। देखते ही देखते आशा कार्यकर्ता नाराज हो गई और चप्पल निकालकर चालक हाकिम सिंह के ऊपर हमला कर दीं। आशा कार्यकर्ताओं द्वारा चालक की पिटाई करते देख वहां हड़कंप की स्थिति मच गई। उसके बाद किसी तरह लोगों ने बीच-बचाव कर आशा कार्यकर्ताओं को शांत कराया। हॉस्पिटल से बाहर निकलने के बाद आशा कार्यकर्ताओं ने चालक के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग करते हुए हाईवे पर जाम लगा दिया।

सीएमओ ने चालक को किया निलंबित

आशा कार्यकर्ताओं द्वारा हाईवे पर जाम लगाए जाने की जानकारी मिलने के बाद सीएमओ मनजीत सिंह द्वारा आरोपी चालक को निलंबित कर दिया गया। चालक को निलंबित किए जाने की सूचना मिलने के बाद आशा कार्यकर्ता हाईवे से हट गईं। हालांकि आशा कार्यकर्ताओं द्वारा चालक के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करते हुए आवश्यक कार्यवाही करने की मांग की गई। फिलहाल इस पूरे मामले को लेकर जिले में स्वास्थ्य महकमें में तरह-तरह की चर्चा चल रही है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *