UP Police: पुलिस ने छात्रा को दी नई जिंदगी, जानिए क्यों करना चाहती थी आत्महत्या

सैयद हुसैन अख्तर/रायबरेली: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के रायबरेली (Raebareli) में यूपी पुलिस (UP Police) ने एक छात्रा (Student) को नई जिंदगी दी है. जिसकी चारो तरफ तारिफ हो रही है. दरअसल, रायबरेली पुलिस एक छात्रा के लिए जीवनदायिनी बन गई है. पुलिस ने रात्रि गश्त के दौरान छात्रा को उस वक्त गंगा नदी में छलांग लगाने से रोक लिया, जब वह सरेनी थाना इलाके के गेगासों पुल की रेलिंग तक पहुंची थी. आइए बताते हैं पूरा मामला. 

Petrol Pump: योगी सरकार ने UP में पेट्रोल पंप खोलना किया आसान, जानिए शर्तें

पुलिस वालों से घिरा देखा रोने लगी छात्रा
आपको बता दें कि गंगा नदी पर बने पुल पर रात्रि गश्त कर रही पुलिस ने सूझबूझ का परिचय देते हुए बिना छात्रा को आवाज लगाए पलक झपकते ही गुरिल्ला प्रणाली की तर्ज पर युवती का पैर पकड़कर खींच लिया. छात्रा ने जब खुद को पुलिस वालों से घिरा देखा तो, फफक-फफक कर रोने लगी. गश्ती पुलिस ने छात्रा को प्यार से समझा. इसके बाद उन्होंने आत्महत्या का कारण पूछा. जब छात्रा ने वजह बताई तो, उसका जवाब सुनकर सभी हतप्रभ रह गया. छात्रा के मुताबिक उसके पिता शराब का आदी हैं. शराब पीने के बाद वह उसके साथ मारपीट करता हैं.

Entertainment News: उर्फी जावेद ने सड़क पर सबको किया दंग, सोशल मीडिया पर जमकर किया जा रहा ट्रोल

मामले में पुलिस अधीक्षक रायबरेली ने दी जानकारी
इस मामले में पुलिस अधीक्षक रायबरेली आलोक प्रियदर्शी ने जानकारी दी. उन्होंने बताया कि हाईस्कूल की छात्रा ने बताया कि पिता शराब का लती होने के चलते उसकी पढ़ाई भी बाधित हो रही है. पुलिस ने तुरंत फतेहपुर ज़िले के हुसैनगंज थाना क्षेत्र निवासी उसके पिता को बुलाकर समझाने बुझाने के बाद अन्य परिजनों की मौजूदगी में उनके हवाले कर दिया. पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने छात्रा को बचाने वाली पुलिस टीम की सराहना की है.

UP Nagar Nikay chunav 2022: क्या है निकाय चुनाव के मायने, क्या है नगर निगम, नगर पालिका और नगर पंचायत में अंतर?



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *