Raju Theth Murder की जिम्‍मेदारी लेने वाला Rohit Godara कौन है, अब रात को Sikar में क्‍या हो रहा?

राजू ठेठ हत्‍याकांड में रोहित गोदारा की भूमिका?

राजू ठेठ हत्‍याकांड में रोहित गोदारा की भूमिका?

राजू ठेठ हत्‍याकांड में रोहित गोदारा का नाम आ रहा है। इसकी वजह ये है कि फेसबुक पर Rohit Godara Kapurisar नाम से बनी आईडी से राजू ठेठ मर्डर केस को लेकर दो पोस्‍ट की गई है, जो सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। सुबह एक पोस्‍ट में राजू ठेठ की हत्‍या की जिम्‍मेदारी ली गई और शाम को की गई पोस्‍ट में इस बात पर खेद जताया गया कि राजू ठेठ की हत्‍या के दौरान ताराचंद कड़वासरा की भी उनसे मौत हो गई।

 रोहित गोदारा की पोस्‍ट की हो रही जांच

रोहित गोदारा की पोस्‍ट की हो रही जांच

सीकर एसपी कुंवर राष्‍ट्रदीप के अनुसार रोहित गोदारा के नाम से राजू ठेठ हत्‍याकांड की जिम्‍मेदारी लेने वाली पोस्‍ट पुलिस को गुमराह करने के लिए की गई है या कोई पुख्‍ता वजह है। इसकी हकीकत जांच में ही सामने आ सकेगी। सीकर पुलिस की साइबर सेल टीम रोहित गोदारा के नाम से की गई पोस्‍ट की जांच में जुटी है।

 रोहित गोदारा ने क्‍यों करवाई राजू ठेठ की हत्‍या?

रोहित गोदारा ने क्‍यों करवाई राजू ठेठ की हत्‍या?

अगर राजू ठेठ की हत्‍या में रोहित गोदारा शामिल पाया जाता है तो सवाल यह उठता है कि आखिर रोहित गोदारा कौन है? राजू ठेठ से रोहित गोदारा की क्‍या दुश्‍मनी और रोहित गोदारा किन लोगों के साथ मिलकर या किन लोगों के जरिए सीकर में राजू ठेठ की हत्‍या करवा दी? इन सारे सवालों के जवाब रोहित गोदारा के पकड़े जाने से ही मिल सकते हैं।

 बीकानेर के लूणकरणसर का रहने वाला रोहित गोदारा

बीकानेर के लूणकरणसर का रहने वाला रोहित गोदारा

रोहित गोदारा राजस्‍थान के बीकानेर जिले में लूणकरनसर तहसील की ग्राम पंचायत कपुरीसर के गांव वन बीएचएम का रहने वाला है। रोहित गोदारा को लम्‍बे समय से अपने गांव में नहीं देखा गया। राजू ठेठ की हत्‍या के बाद रोहित गोदारा के घर के पास पुलिस टीमें तैनात की गई हैं। सीकर के साथ बीकानेर पुलिस भी रोहित गोदारा की तलाश में जुटी है। बीकानेर शहर में पुलिस ने ए कैटेगरी का सुरक्षा अलर्ट जारी किया है।

रोहित गोदारा ने पहली पोस्‍ट में ली राजू ठेठ हत्‍याकांड की जिम्‍मेदारी

रोहित गोदारा ने पहली पोस्‍ट में ली राजू ठेठ हत्‍याकांड की जिम्‍मेदारी

सीकर शहर के उद्योग नगर इलाके में शनिवार सुबह 9 बजे राजू ठेठ की हत्‍या की गई है। चार अज्ञात बदमाश राजू ठेठ को उसके भाई ओमा ठेठ के घर पर मुख्‍य दरवाजे पर गोली मारकर चले गए। राजू ठेठ की हत्‍या के थोड़ी देर बाद ही Rohit Godara Kapurisar नाम की आईडी से एफबी पर हुई पोस्‍ट में लिखा कि ”राम राम सभी भाइयों को आज ये जो राजू ठेठ की हत्‍या हुई है। उसकी सम्‍पूर्ण जिम्‍मेदारी मैं लॉरेंस बिश्‍नोई गैंग का रोहित गोदारा लेता हूं। ये हमारे बड़े भाई आनंदपाल व बलबीर बानूड़ा की हत्‍या में शामिल था जिसका बदला आज हमने इसे मारकर पूरा किया है। रही बात हमारे और दुश्‍मनों की तो उनसे भी जल्‍द मुलाकात होगी। जय बजरंग बली’

राजू ठेठ कैसे बना गैंगस्‍टर? यहां Click करके जानेंराजू ठेठ कैसे बना गैंगस्‍टर? यहां Click करके जानें

रोहित गोदारा ने दूसरी पोस्‍ट में ताराचंद कड़वासरा की मौत पर दुख

रोहित गोदारा ने दूसरी पोस्‍ट में ताराचंद कड़वासरा की मौत पर दुख

Rohit Godara Kapurisar नाम की आईडी से एफबी पर शाम को दूसरी पोस्‍ट हुई है, जिसमें लिखा है कि ‘ राम-राम सभी भाइयों को। भाइयों, आज ये जो राजू ठेठ की हत्या हुई है। इसकी हत्या हमने की है, क्योंकि ये हमारा दुश्मन था। इसका हमें कोई खेद नहीं है।, लेकिन इसके साथ जो ताराचन्द जी का निधन हुआ है। उनसे हमारी कोई दुश्मनी नहीं थी। इस घटना को लेकर मैं उनके पूरे परिवार और पूरे समाज से माफ़ी मांगता हूँ। मैं इस परिवार की हर तरीके से सहयोग करने की कोशिश करूंगा। लड़ाई हमारी और हमारे दुश्मनों की आपस में है। इनके निधन का हमें खेद है। इस नुकसान की भरपाई तो हम नहीं कर सकते, लेकिन इनसे हमारा कोई लेना-देना नहीं था। भगवान इनकी पुण्य आत्मा को शांति प्रदान करें।’

ताराचंद कड़वासरा कौन था? यहां Click करके जानें ताराचंद कड़वासरा कौन था? यहां Click करके जानें

 रोहित गोदारा पर राठी को धमकाने का आरोप

रोहित गोदारा पर राठी को धमकाने का आरोप

मीडिया की खबरों की मानें तो रोहित गोदारा पर बीकानेर जिले के नोखा में व्यापारी जुगल राठी को चौथ वसूली के लिए धमकाने का आरोप है। इसका मामला भी दर्ज हुआ था। रोहित ने महज 19 साल की उम्र में ही अपराध की दुनिया में कदम रख लिया था। रोहित गोदारा मोनू गैंग व गुठली गैंग चलाता है। राजू ठेठ की हत्‍या की जिम्‍मेदारी वाली पोस्‍ट से पता चलता है कि रोहित गोदारा के तार लॉरेंस बिश्‍नोई गैंग से भी जुड़े हैं। बताया जा रहा है कि रोहित गोदारा कम उम्र में ही 15 बार जेल जा चुका है। इसके गैंग के गुर्गे हर बार इसे छुड़वा लेते हैं।

 सरपंच मगनी देवी की हत्‍या का आरोपी

सरपंच मगनी देवी की हत्‍या का आरोपी

मीडिया की खबरों में आरोप लगाया जा रहा है कि चूरू जिले के सरदारशहर उपखंड में सरपंच मगनी देवी की हत्‍या भी रोहित गोदारा ने ही करवाई थी। रोहित ने खुद की सुरक्षा के लिए चार बॉडीगार्ड रखे हुए हैं। खुद मर्डर करने नहीं जाता। शूटरों को भेजता है। रोहित गोदारा की गैंग में 150 के करीब लड़के हैं। इसकी गैंग राजस्थान, हरियाणा और पंजाब में सक्रिय बताई जा रही है। विभिन्‍न पुलिस थानों में रोहित गोदारा के खिलाफ 25 से ज्‍यादा मामले दर्ज हैं।

 CLC करेगी ताराचंद कड़वासरा की बेटी की मदद

CLC करेगी ताराचंद कड़वासरा की बेटी की मदद

इधर, कॅरियर लाइन कोचिंग यानी सीएलसी ने भी ताराचंद कड़वासरा की मौत को लेकर बयान जारी किया है। CLC डायरेक्‍टर इंजीनियर श्रवण चौधरी ने कहा है कि सीकर गोलीकांड में ताराचंद कड़वासरा की मौत हुई है। उनकी बेटी सीएलसी में पढ़ रही है। पिता की मौत के बाद ताराचंद कड़वासरा की बेटी को सीएलसी की ओर से सम्‍पूर्ण कोचिंग निशुल्‍क करवाई जाएगी। ताराचंद कड़वासरा की बेटी के अलावा उनके अन्‍य बच्‍चों को भी फ्री में पढ़ाएंगे।

 राजू ठेठ हत्‍याकांड के विरोध में सीकर में धरना प्रदर्शन जारी

राजू ठेठ हत्‍याकांड के विरोध में सीकर में धरना प्रदर्शन जारी

सीकर में दिनदहाड़े गोली मारकर राजू ठेठ व ताराचंद कड़वासरा की जान लेने वाले इस हत्‍याकांड के विरोध में सीकर के लोगों में जबरदस्‍त गुस्‍सा है। शनिवार रात को भी दोनों के शव अभी सीकर के एसके अस्‍पताल में रखे रहे। अभी तक पोस्‍टमार्टम नहीं हुआ है। राजू ठेठ के परिजन, समर्थक, वीर तेजा सेना पदाधिकारी कार्यकर्ता और जाट समाज के अनेक लोग धरना देकर प्रदर्शन कर रहे हैं। आरोपियों की गिरफ्तार नहीं होने तक शव लेने को तैयार नहीं हैं।

राजू ठेठ की हत्‍या का LIVE, यहां Click करके देखेंराजू ठेठ की हत्‍या का LIVE, यहां Click करके देखें

 सांसद-विधायक भी सीकर पहुंचे

सांसद-विधायक भी सीकर पहुंचे

राजू ठेठ हत्‍याकांड के विरोध में सीकर एसके अस्‍पताल में मुर्दाघर के बाहर धरना दिया जा रहा है। सीकर सांसद सुमेधानंद सरस्वती, राजस्थान विश्वविद्यालय छात्रसंघ अध्यक्ष निर्मल चौधरी, विधायक मुकेश भाकर, हरिराम रणवां व बंशीधर बाजिया समेत कई नेता भी सीकर पहुंचकर धरने पर बैठे हैं। भाजपा ने सीकर में जन आक्रोश यात्रा स्‍थगित कर दी। रविवार सुबह दस बजे भाजपा कार्यालय सीकर में बैठक रखी गई है, जिसमें आगामी रणनीति बनाई जाएगी।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *