OMG: अर्थी सजते ही चलने लगी मुर्दे की सांस, श्मशान की बजाय अस्पताल पहुंचे परिजन

हाइलाइट्स

मुर्दे में सांस लौटने की ये घटना झारखंड के धनबाद की है
सुखलाल मुंडा की मौत के बाद उसके अंतिम दर्शन के लिए लोग पहुंच गए थे
सांस चलने पर परिजनों द्वारा मुर्दे को एम्बुलेंस से SNMMCH ले जाया गया

रिपोर्ट- संजय गुप्ता

धनबाद. झारखंड के धनबाद जिले में एक अजीबोगरीब घटना सामने आई. व्यक्ति की मौत हो गई थी. मौत होने पर कब्र भी खोद लिया गया था. अर्थी भी सजायी जा रही थी, रीति रिवाज से शव को नहलाया जा रहा था कि आचनक शव की सांसे चलने की बात सामने आ गई फिर क्या था मुर्दा के जिंदा होने की बात कही जाने लगी तो परिजनों में कौतूहल मच गया. एक आस अपने का फिर से जिंदा होने की आ गई. इसके बाद लोकल डाक्टरों को बुलवाया गया. लोकल डॉक्टर ने शव की जांच की तो जिंदा होने की पुष्टि कर दी.

मुर्दा जिंदा हुआ तो जल्द ही अस्पताल ले जाने की सलाह परिजनों को दी गई. परिजन आनन-फानन में एसएनएमएमसीएच अस्पताल लेकर पहुंच गए लेकिन एसएनएमएमसीएच अस्पताल में डॉक्टरो ने व्यक्ति को मृत घोषित कर दिया. मुर्दा के जिंदा और फिर जिंदा होकर दोबारा मुर्दा होने की यह घटना धनबाद कोयलांचल में चर्चा का विषय बना हुआ है. दरअसल सुदामडीह थाना क्षेत्र के नीचे मोहलबनी के रहने वाले सुखलाल मुंडा की मौत हो गई थी. मौत के बाद उसके अंतिम दर्शन के लिए लोग भी पहुंच गए थे. अर्थी पर रखने से पहले से उसे नहाने की क्रिया चल रही थी.

उधर मोहलबनी शमशान घाट में उसके शव को दफन करने के लिए कब्र भी खोदा जा चुका था लेकिन अचानक से शव में जीवित व्यक्ति की तरह हरकत हुई. मुर्दा जिंदा हुआ तो स्वास्थ्य केंद्र में भी उहापोह की स्थिति बन गई. किसी ने कहा रेफर कर देते हैं तो किसी ने कहा मौत हो चुकी है. डॉक्टरों के द्वारा किसी निजी अस्पताल में ले जाने की बात कही गई, जिसके बाद परिजनों के द्वारा उसे एम्बुलेंस से SNMMCH ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे फिर से मृत घोषित कर दिया.

Tags: Dhanbad news, Jharkhand news, OMG News

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.