MP: रायसेन के बाल गृह में 3 हिंदू बच्‍चों का धर्मांतरण, संचालक पर एफआईआर के आदेश

रायसेन: मध्‍य प्रदेश के रायसेन में धर्मांतरण का मामला सामने आया है। यहां बाल गृह में रह रहे तीन हिंदू बच्‍चों को जबरन मुसलमान बना दिया गया। संचालक पर आरोप है कि उसने बच्‍चों के आधार कार्ड में भी नाम बदलवा दिए है। वहीं, मामला सामने आने के बाद राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने संज्ञान लिया और बाल गृह की संचालक पर एफआईआर दर्ज कराने के आदेश दिए है।

बाल कल्याण समिति की रिपोर्ट में बच्चों के नाम हिंदू
दरअसल, मंडीदीप में रहने वाले तीनों बच्चे अपने मां-बाप से बिछड़ गए थे। भोपाल बाल कल्याण समिति ने बच्चों की पहचान के बाद इन्हें रायसेन की बाल कल्याण समिति को सौंपा। तीनों बच्चे तभी से गौहरगंज में सरकारी अनुदान पर चलने वाले बाल गृह में रह रहे हैं। बच्चे ओबीसी हैं, जिनकी उम्र 4, 6 और 8 साल है। इनमें दो बहन और एक भाई है। बाल गृह की संचालक हसीन परवेज मुस्लिम है। उसने इन बच्चों के हिंदू नाम बदलकर मुस्लिम रख दिए और मुस्लिम नाम से ही इनका आधार कार्ड भी बनवा दिया, जिसमें बच्चों के माता-पिता के बजाए केयर टेकर के रूप में शिशु गृह के संचालक हसीन परवेज का नाम दर्ज है, जबकि भोपाल और रायसेन बाल कल्याण समिति की रिपोर्ट में तीनों बच्चों के नाम हिंदू ही लिखे गए थे।

Kanpur News: 10 साल के बच्चे ने मोबाइल पर देखी पोर्न क्लिप, फिर 7 साल की लड़की से किया रेप.. पॉक्सो में FIR
ऐसे हुआ मामले का खुलासा

राष्ट्रीय बाल आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो शनिवार को रायसेन पहुंचे थे और यहां उन्होंने गौहरगंज स्थित उक्त बाल गृह का निरीक्षण किया था। इस दौरान मामले का खुलासा हुआ। इसके बाद उन्होंने बाल गृह की संचालक को फटकार लगाते हुए शिशु गृह के सभी दस्तावेज जब्त करने के निर्देश दिए। साथ ही महिला बाल विकास विभाग को जांच कर एफआईआर दर्ज कराने के आदेश भी दिए हैं।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.