Money Laundering Case: अब मुख्तार अंसारी की बेनामी संपत्ति पर कसेगा ED का शिकंजा

हाइलाइट्स

अब्बास अंसारी और सरजील से अब तक हुई पूछताछ में कई बड़े खुलासे हुए हैं
ईडी की कार्रवाई के बाद करोड़ों रुपए दूसरों के नाम पर निवेश किए गए हैं
अब ईडी की नजर उन लोगों पर है, जिनके नाम निवेश किए गए हैं

प्रयागराज. मनी लॉन्ड्रिंग मामले में विधायक बेटे अब्बास अंसारी और साले सरजील रजा की गिरफ्तारी के बाद अब ईडी बाहुबली मुख़्तार अंसारी की बेनामी संपत्तियों पर कार्रवाई करेगी. दरअसल, कस्टडी रिमांड के दौरान अब्बास अंसारी और सरजील से अब तक हुई पूछताछ में कई बड़े खुलासे हुए हैं. जानकारी मिली है कि ईडी की कार्रवाई के बाद करोड़ों रुपए दूसरों के नाम पर निवेश किए गए हैं. विकास कंस्ट्रक्शन समेत अन्य कंपनियों से बाहरी लोगों को रुपए दिए गए हैं.

अब ईडी की नजर उन लोगों पर है, जिनके नाम निवेश किए गए हैं और जिन्हें रुपए दिए गए हैं. ईडी इसे मुख्तार अंसारी की बेनामी संपत्ति मानते हुए कार्रवाई करने की तैयारी कर रही है. ईडी मुख्तार अंसारी की अवैध संपत्तियों की तलाश में जुट गई है. ईडी ने अब तक मुख्तार अंसारी के परिवार के दो दर्जन से अधिक बैंक खातों क़ खंगाला है. पता चला है कि करोड़ों रुपए दूसरे लोगों को दिए गए हैं. जिनके खातों में रुपए ट्रांसफर किए गए हैं ईडी ने उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया है.

ईडी साक्ष्य एकत्र करने में जुटी
ईडी का मानना है कि मुख्तार के गुर्गों पास जो संपत्तियां हैं, वह मुख्तार की बेनामी संपत्तियां हैं. ईडी साक्ष्य एकत्र कर ऐसी बेनामी संपत्तियों को अटैच करने की तैयारी कर रही है. ईडी ने आगाज कंस्ट्रक्शन कंपनी के मालिक और मुख्तार के ससुर जमशेद रजा को समन भेजा है. ईडी मुख्तार के ससुर जमशेद रजा को बयान दर्ज करने के लिए बुला सकती है.

पूछताछ में अक्सर फंस रहे मामा-भांजे
वहीं अब्बास अंसारी और उसके मामा सरजील रजा से ईडी लगातार पूछताछ कर रही है. ईडी पूछताछ के साथ ही दोनों के बयान भी रिकॉर्ड कर रही है. मिल रही जानकारी के मुताबिक कई सवालों के जवाब पर मामा भांजे अक्सर फंस रहे हैं. हर बड़े ट्रांजैक्शन पर ईडी दोनों से अलग-अलग सवाल ही पूछ रही है. उसके बाद उनका आमना-सामना भी कराया जाता है. ईडी ने मुख्तार के ससुर जमशेद रजा की कंपनी आगाज कंस्ट्रक्शन से जुड़े सदस्यों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है. ईडी की छानबीन में पता चला है कि आगाज कंस्ट्रक्शन का एक पार्टनर शादाब विदेश में है. ईडी इस मामले की छानबीन कर रही है. ईडी अब शादाब को भी बयान के लिए बुला सकती है. उसके बैंक खाते भी खंगाले जा रहे हैं.

2021 में दर्ज हुआ था मनी लॉन्ड्रिंग का केस 
फिलहाल, मुख्तार का बेटा विधायक अब्बास अंसारी 18 नवंबर तक ईडी की कस्टडी रिमांड पर है, जबकि सरजील रजा की कस्टडी रिमांड 15 नवंबर दोपहर 2 बजे तक है. ईडी ने मार्च 2021 में मुख्तार अंसारी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था. मनी लॉन्ड्रिंग केस में जांच शुरू होने के बाद मुख्तार अंसारी पर शिकंजा कसता जा रहा है.

Tags: Allahabad news, Bahubali Mukhtar Ansari, UP latest news

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.