Mainpuri bypoll: “डिम्पल भाभी जीतेंगी” लिखकर खजांची ने काटा केक, अखिलेश से मांगा जीत का उपहार

खजांची का कल जन्मदिन था और जन्मदिन के मौके पर मैनपुरी सीट से चुनाव लड़ रही अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव के चुनाव का प्रचार दिखाई दिया।

Kanpur

oi-Shivam Gaur

Google Oneindia News
Mainpuri By-election: Cashier cut the cake by writing Dimple Bhabhi Jeetengi, asked Akhilesh for a victory gift

राजनीति के गलियारे में जब कोई नाम आम से खास हो जाए तो शख्सियत बन जाती है। वर्ष 2016 नोटबंदी के दौरान बैंक के बाहर जन्म लेने वाले 1 बच्चे ने पूरी दुनिया में इतना नाम कमाया कि वह किसी परिचय का मोहताज नहीं, बैंक की लाइन में लगी महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया था। नोटबंदी के दौरान जन्म लेने वाले इस बच्चे का नाम समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने खजांची नाथ रखा था। खजांची नाथ ने 2 दिसंबर वर्ष 2016 को जन्म लिया था। खजांची का कल जन्मदिन था और जन्मदिन के मौके पर मैनपुरी सीट से चुनाव लड़ रही अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव के चुनाव का प्रचार दिखाई दिया।

Mainpuri By-election: Cashier cut the cake by writing Dimple Bhabhi Jeetengi, asked Akhilesh for a victory gift

समाजवादी रंग में रंगा हुआ केक
बता दें कि 2 दिसंबर को खजांची का जन्मदिन था और यह जन्मदिन उसके ननिहाल यानी कि अनंतपुर धौकल गांव में मनाया गया। इस घर को अखिलेश यादव ने खजांची की मां को उसके जन्म के दौरान दिया था। लेकिन ये जन्मदिन प्रदेश की सियासत पर एक तस्वीर बनकर सामने आ रहा है। ये बच्चा अपने जन्मदिन को मनाने के लिए उत्साहित है। वही इसके मन में मैनपुरी सीट से चुनाव लड़ रही डिंपल यादव की जीत का ख्याल है और यह ख्याल खजांची के साथ-साथ पूरे परिवार का भी है। खजांची ने अपने जिस्म पर लिख रखा है “मैनपुरी सीट से अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव जीतेंगी।”
अब जरा गौर से देखिए इस मासूम बच्चे के शरीर पर जिसने अपने जन्मदिन के मौके पर अपने शरीर पर लिखा रखा है, “डिंपल भाभी जीतेगी।” इस मौके पर शहर के समाजवादी कार्यकर्ताओं द्वारा एक स्पेशल केक लाया गया है। इस केक पर समाजवादी पार्टी का सिंबल भी बना हुआ है। यही नहीं इस केक पर साइकिल भी बनी हुई है। साथ ही यह केक पूरी तरीके से समाजवादी रंग में रंगा हुआ है। खजांची का जन्मदिन मनाने लगभग सभी क्षेत्रीय नेता खजांची के घर पहुंच गए। सभी ने मिलकर धूमधाम से जन्मदिन मनाया और डिंपल भाभी की जीत का ऐलान भी खजांची का जन्मदिन केक काटकर कर दिया।

Mainpuri By-election: Cashier cut the cake by writing Dimple Bhabhi Jeetengi, asked Akhilesh for a victory gift

अखिलेश यादव ने रखा था इस बच्चे का नाम ‘खजांची’
वर्ष 2016 को नोटबंदी के दौरान जहां पूरा देश पैसों के लिए बैंकों के बाहर कतार में खड़ा था तो वहीं कानपुर देहात के झींझक विकासखंड स्थित सरदार पुरवा गांव निवासी सर्वेशा देवी ने एक बच्चे को जन्म दिया था, जिसके बाद समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने सरकार पर तंज कसते हुए तमाम टिप्पणियां की साथ ही साथ जन्म लेने वाले इस बच्चे को नया नाम भी दिया था। अखिलेश यादव ने इस बच्चे का नाम खजांची रखा जिसके बाद खजांची पूरी दुनिया में चर्चित हो गया। खजांची आज की तारीख में किसी परिचय का मोहताज नहीं, क्योंकि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष से लेकर पूरे कुनबे का हर शख्स खजांची को नाम से जानता है। वही अखिलेश यादव ने खजांची नाथ की शिक्षा दीक्षा व रहने की व्यवस्था की थी, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री ने जो वादा किया था उसे भी पूरा कर दिखाया।

Mainpuri Loksabha Election: रामपुर-आजमगढ़ की तरह मैनपुरी में बाजी पलटेंगे BSP के वोटर ?Mainpuri Loksabha Election: रामपुर-आजमगढ़ की तरह मैनपुरी में बाजी पलटेंगे BSP के वोटर ?

English summary

Mainpuri By-election: Cashier cut the cake by writing “Dimple Bhabhi Jeetengi”, asked Akhilesh for a victory gift

Story first published: Saturday, December 3, 2022, 17:14 [IST]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *