Lucknow building colapse: अभी भी 5 लोग मलबे में दबे, बिल्डिंग गिरने की वजह साफ नहीं

Lucknow

oi-Ankur Singh

Google Oneindia News
Lucknow building colapse:


Lucknow
building
collapse:

लखनऊ
के
वजीर
हसन
रोड
पर
जिस
तरह
से
अपार्टमेंट
ढह
गया
है
उसमे
अभी
तक
पांच
लोगों
के
अभी
भी
मलबे
में
दबे
होने
की
खबर
है।
डीजीपी
डीएस
चौहान
ने
बताया
कि
मलबे
के
नीचे
अभी
भी
पांच
लोग
दबे
हैं,
उन्हें
ऑक्सीजन
मुहैया
कराई
जा
रही
है।
ये
सभी
लोग
एक
ही
कमरे
में
हैं,
हम
इनमे
से
दो
लोगों
के
संपर्क
में
हैं।
इस
पूरे
मामले
में
अभी
तक
किसी
को
गिरफ्तार
नहीं
किया
गया
है।
इस
पूरे
मामले
की
जांच
की
जाएगी।
बता
दें
कि
मंगलवार
की
शाम
को
वजीर
हसन
रोड़
पर
स्थित
अपॉर्टमेंट
ढह
गया
था।
अभी
तक
इस
बिल्डिंग
के
ढहने
की
वजह
सामने
नहीं

सकी
है।
स्थानीय
लोगों
का
कहना
है
कि
यहां
पर
बिल्डिंग
की
पार्किंग
में
निर्माण
कार्य
चल
ररहा
था,
हो
सकता
है
कि
इस
वजह
से
बिल्डिंग
नीचे
गिर
गई।

इसे भी पढ़ें- MP Cabinet Meeting: बीएमसी सागर को 85 पीजी सीट्स और 101.46 करोड़ रुपए की स्वीकृत मिलीइसे
भी
पढ़ें-
MP
Cabinet
Meeting:
बीएमसी
सागर
को
85
पीजी
सीट्स
और
101.46
करोड़
रुपए
की
स्वीकृत
मिली

डीजीपी
का
कहना
है
कि
प्रथम
दृष्टया
ऐसा
लगता
है
कि
यह
प्राकृतिक
आपदा
है।
हो
सकता
है
कि
5.8
तीव्रता
का
भूकंप
इसकी
वजह
हो,
यह
गोमती
नदी
के
पास
स्थित
बिल्डिंग
है।
इसके
अलावा
डीजीपी
ने
बताया
कि
यहां
पर
कुछ
निर्माण
कार्य
चल
रहा
था,
लेकिन
यह
छोटा-मोटा
काम
चल
रहा
था।
यहां
पर
किसी
भी
तरह
की
बड़ी
निर्माण
मशीन
नहीं
थी।
लिहाजा
निर्माण
कार्य
इस
बिल्डिंग
के
गिरने
की
वजह
नहीं
हो
सकती
है।
अभी
भी
यह
पूरा
मामला
जांच
का
विषय
है।
हमने
स्ट्रक्चरल
एक्सपर्ट
की
एक
टीम
को
बुलाया
है
जो
इसकी
जांच
करेगी।
स्ट्रक्चरल
इंजीनियर
जल्द
ही
इस
साइट
पर
पहुंचेंगे
और
बिल्डिंग
के
गिरने
की
वजह
बताएंगे।

वजीर
हसन
रोड
स्थित
अलाया
अपार्टमेंट
मंगलवार
की
शाम
6.46
ढह
गया।
इस
हादसे
में
30
लोग
बिल्डिंग
के
मलबे
के
नीचे
दब
गए।
घटना
के
बाद
आस-पास
चीख-पुकार
मच
गई।
घटना
की
जानकारी
मिलते
ही
राहत
और
बचाव
दल
यहां
पहुंचा।
ब्लड
बैंक
को
अलर्ट
किया
गया।
मलबे
को
हटाने
की
कोशिश
शुरू
हुई।
ड्रिल
मशीन
से
एनडीआरएफ
की
टीम
मलबे
के
टुकड़े
को
हटाने
का
काम
कर
रही
है।
अभी
तक
14
घायलों
को
अस्पताल
में
भर्ती
कराया
गया
है,
दो
लोगों
का
केजीएमयू
के
ट्रामा
सेंटर
में
इलाज
चल
रहा
है।
एक
बच्चे
की
हालत
गंभीर
बताई
जा
रही
है।

इस
घटना
के
बाद
सपा
विधायक
शाहिद
मंजूर
के
बेटे
नवाजिश
को
पुलिस
ने
हिरासत
में
लिया
है।
वह
इस
अपार्टमेंट
में
पार्टनर
हैं।
पुलिस
ने
मेरठ
से
सपा
विधायक
के
बेटे
को
हिरासत
में
लेकर
पूछताछ
शुरू
कर
दी
है।
इस
घटना
का
मुख्यमंत्री
योगी
आदित्यनाथ
ने
संज्ञान
लिया
है।
उन्होंने
निर्देश
दिए
हैं
कि
राहत
और
बचाव
कार्यों
में
किसी
भी
तरह
की
ढिलाई
ना
बरती
जाए।
अस्पताल
में
घायलों
को
बेहतर
इलाज
मुहैया
कराया
जाए।
सभी
अस्पतालों
को
अलर्ट
पर
रहने
को
कहा
गया
है।

Recommended
Video

Lucknow
में
भूकंप
से
बिल्डिंग
गिरी,
कई
परिवार
दबे,
कई
शव
निकाले
गए
|
वनइंडिया
हिंदी

English summary

Lucknow building collapse: 5 people are still stuck in the debris cause of incident yet not clear

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *