JNU के मेन गेट पर हिंदू रक्षा दल के लोगों ने लिखा- कम्युनिस्टों भारत छोड़ो, आतंकी संगठन ISIS से की तुलना

Creative Common

हिंदू रक्षा दल के सदस्यों ने कथित तौर पर कम्युनिस्टों के खिलाफ नारे लिखे। उन्होंने लिखा, “कम्युनिस्ट भारत छोड़ो”। इसके साथ ही “कम्युनिस्ट की तुलना आईएसआईएस”से की गई है।

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) परिसर की दीवारों पर आपत्तिजनक, जातिवादी टिप्पणियां लिखी जाने के एक दिन बाद अब एक नया स्लोगन लिखा पाया गया है। जेएनयू छात्र संघ द्वारा कैंपस की दीवारों पर लगे आपत्तिजनक और ब्राह्मण विरोधी नारों की निंदा करने के एक दिन बाद आया है और कहा है कि जेएनयू प्रशासन इस मामले को देख रहा है। नए स्लोगन में कम्युनिस्ट विरोधी टिप्पणी लिखी गई है और इसे आईएस (इस्लामिक स्टेट) के साथ जोड़ा गया है।

इसे भी पढ़ें: ब्राह्मण विरोधी नारे पर भड़के गिरिराज, ‘टुकड़े-टुकड़े’ गैंग का अड्डा बनता जा रहा है JNU

हिंदू रक्षा दल के सदस्यों ने कथित तौर पर कम्युनिस्टों के खिलाफ नारे लिखे। उन्होंने लिखा, “कम्युनिस्ट भारत छोड़ो”। इसके साथ ही “कम्युनिस्ट की तुलना आईएसआईएस”से की गई है और कहा गया कि “जिहादी भारत छोड़ो”। हिंदू रक्षा दल के अध्यक्ष पिंकी चौधरी का कहना था कि हम केवल और केवल सनातनी हिंदू हैं। हम लोगों में केवल चार वर्ण हैं। हर हिंदू में चारों वर्ण हैं। इन्होंने हमें कहा कि भारत छोड़ो… हम इनसे भारत छुड़वाएंगे।

इसे भी पढ़ें: जेएनयू परिसर में इमारतों पर लिखे गए ब्राह्मण विरोधी नारे, स्कूल ऑफ इंटरनेशनल स्टडीज-द्वितीय की इमारत में तोड़फोड़

जेएनयूएसयू ने कहा, “यह पहली बार नहीं है कि जेएनयू में इस तरह की हरकतें की गई हैं। इस साल की शुरुआत में, जेएनयू की दीवारों पर अज्ञात व्यक्तियों द्वारा” मुस्लिम लाइव्स डोंट मैटर “लिखा गया था। स्पष्ट रूप से परिसर के माहौल को खराब करके परिसर की सामान्य स्थिति को बिगाड़ना था। यह पहली बार नहीं है कि विश्वविद्यालय के भीतर इस तरह की घटना हुई है।

अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *