Jharkhand: बिजली की आंख मिचौली के बीच अपराधियों की मौज, रांची में बढ़ा क्राइम ग्राफ 

रांची. झारखंड की राजधानी रांची में इन दिनों बिजली की आंख मिचौली जारी है. इस वजह से अपराध की घटनाओं में भी इजाफा हो रहा है, वहीं लोग बिजली की आंख मिचौली से न सिर्फ परेशान हैं बल्कि दहशत के माहौल में भी जीने को मजबूर हैं. लोग मजबूरी में शाम ढलते ही अपने घरों में दुबक जाते हैं. राजधानी रांची में हाल के दिनों में बिजली की किल्लत कुछ ज्यादा ही बढ़ चली है. लगातार बिजली कटौती से और इसकी आंख मिचौली से आमजन परेशान हैं तो वहीं दूसरी तरफ अपराधियों को बिजली की आंख मिचौली एक मुफीद माहौल दे रही हैं.

इस वजह से लगातार अपराध की घटनाओं में भी इजाफा हो रहा है. चाहे गोलीबारी की वारदात हो या फिर चोरी. सभी घटनाओं को चोर आराम से अपराधी अंजाम दे रहे हैं, जिस कारण घटनाओं में इजाफा देखने को मिल रहा है. स्थानीय लोगों का कहना है कि सुबह से ही बिजली की आंख मिचौली शुरू हो जाती है जो देर रात तक जारी रहती है. इस वजह से शाम ढलने के साथ ही वह अपने घरों में ही सिमट कर रह जाते हैं.  लोगों का यह भी कहना है कि बिजली के कारण सड़कों पर अंधेरा छा जाता है जिस वजह से अपराधी सड़कों पर आसानी से घूमते-फिरते रहते हैं और अपराध की वारदात को अंजाम देते हैं.

हाल के दिनों में रांची में चोरी की वारदातों में इजाफा हुआ है. रांची के बरियातू इलाके में तीन घरों को एक साथ चोरों ने निशाना बनाया था. 21 नवंबर को बरियातू इलाके स्थित तीन घरों को चोरों ने निशाना बनाते हुए घरों से लाखों के कीमती सामान और नकद पर हाथ साफ कर लिया. 21 नवंबर को नामकुम थाना क्षेत्र स्थित अपार्टमेंट के दो फ्लैटों को चोरों ने निशाना बनाया. इन फ्लैटों से भी लाखों के सामान और नकद पर चोरी ने हाथ साफ किया. 22 नवंबर को कांके थाना क्षेत्र में मोबाइल दुकान को चोरों ने निशाना बनाया. मोबाइल दुकान की दीवार तोड़कर दुकान से की लाखों की चोरी की. 23 नवंबर को जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र में चोरी हुई तो वहीं नगड़ी थाना क्षेत्र में सूरज महली नामक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई.

आपके शहर से (रांची)

इसके बाद 23 नवंबर को ही बरियातू थाना क्षेत्र स्थित एदलहातु टीओपी के सामने हत्या की गई. गोलीबारी के दौरान बिजली गुल रही जिस कारण अपराधी घटना को अंजाम देकर मौके से फरार हुए. मामले को लेकर बीजेपी के तेवर भी तल्ख हैं. बीजेपी विधायक सीपी सिंह ने सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि ये सरकार नहीं सर्कस है. जिस तरह से घटनाएं बढ़ी हैं उससे साफ है की सरकार हर मोर्चे पर विफल है.

बिजली की आंख मिचौली से भी रांची में अपराध के आंकड़ों में इजाफा हो रहा है. ऐसे में जरूरी है कि लॉ एंड ऑर्डर मेंटेन करने को लेकर बिजली विभाग और सरकार को भी गंभीर होना होगा नहीं तो आने वाले दिनो में स्थिति और भी गंभीर हो सकती है.

Tags: Crime News, Jharkhand news, Ranchi news

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *