Hot Flashes Problems: क्या हॉट फ्लशैज से बढ़ सकती है हार्ट की प्रॉब्लम, यहां जानें इसके उपाय

हाइलाइट्स

हॉट फ्लैशेज होने पर महिलाओं को आ सकता है अधिक पसीना.
मेनोपॉज के कारण हो सकती है हॉट फ्लैशेज की समस्‍या.
हॉट फ्लैशेज होने पर घबराहट महसूस हो सकती है.

Hot Flashes Can Increase Heart Problem: अचानक पसीना आना, गर्मी लगना व असहज महसूस करना ये लक्षण हो सकते हैं हॉट फ्लैशेज के. हॉट फ्लैशेज मेनोपॉज के सबसे आम लक्षणों में से एक है. हॉट फ्लैशेज से कई हेल्‍थ प्रॉब्‍लम होने का खतरा बढ़ सकता हैं. जिन महिलाओं को अधिक बार हॉट फ्लैशेज की समस्‍या होती है उनमें कार्डियोवैस्‍कुलर समस्‍याएं बढ़ सकती हैं. इसके अलावा जिन महिलाओं को पहले से डायबिटीज, हाई ब्‍लड प्रेशर और हाई कोलेस्‍ट्रॉल है उन्‍हें भी आर्टरीज में ब्‍लॉकेज होने की समस्‍या का सामना करना पड़ सकता है.

हॉट फ्लैशेज और हार्ट प्रॉब्‍लम्‍स में संबंध
वेरीवैल हेल्‍थ के अनुसार जिन महिलाओं को मेनोपॉज से पहले बार-बार हॉट फ्लैशेज की समस्‍या होती है उनमें हार्ट प्रॉब्‍लम होने का खतरा अधिक बढ़ जाता है. महिलाओं में हॉट फ्लैशेज 45 की उम्र के बाद हो सकता है. 45 की उम्र में महिलाओं का हार्ट अधिक संवेदनशील और कमजोर हो सकता है जिस वजह से उन्‍हें हॉट फ्लैशेज के दौरान हार्ट संबंधी समस्‍याओं का सामना करना पड़ सकता है. हालांकि इसके कारणों के बारे में सटीक जानकारी प्राप्‍त नहीं हुई है लेकिन दिल की धड़कने तेज होने की वजह से ऐसा संभव हो सकता है.

ये भी पढ़ें: बढ़ते वर्कलोड के बीच कर्मचारियों के लिए जरूरी है अच्छी मेंटल हेल्थ, ऑफिस को ऐसे बनाएं तनाव मुक्त

हॉट फ्लैशेज के लक्षण
शरीर गर्म होना
दिल की धड़कनें बढ़ना
अधिक पसीना आना
घबराहट महसूस करना
थकान होना
उल्‍टी जैसा लगना

हॉट फ्लैशेज होने पर क्‍या करें
खुली हवा में सांस लें
ठंडा पानी पिएं
कोल्‍ड शॉवर लें
ब्रीदिंग एक्‍सरसाइज करें
स्‍मोक न करें
हल्‍के और ढीले कपड़े पहनें
मन को शांत रखें  

ये भी पढ़ें: रात की खांसी बन सकती है परेशानी का सबब, जानें इसके कारण और उपचार

हॉट फ्लैशेज एक सामान्‍य समस्‍या है जिसे लाइफस्‍टाइल और आदतों में बदलाव करके मैनेज किया जा सकता है. हॉट फ्लैशेज की समस्‍या होने पर डॉक्‍टर की सलाह लेना न भूलें.

Tags: Health, Health problems, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.