Gorakhpur News: विधानसभा का वोटर बनने के लिए आठ दिसंबर तक मौका, हर बूथ पर मौजूद रहेंगे बीएलओ

सांकेतिक तस्वीर।

सांकेतिक तस्वीर।
– फोटो : अमर उजाला।

ख़बर सुनें

गोरखपुर-फैजाबाद स्नातक निर्वाचन व निकाय चुनाव के लिए वोटर अभियान के बाद अब विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र का वोटर बनने के लिए भी मतदाता पुनरीक्षण अभियान शुरू हो गया है। नौ नवंबर से शुरू हुए इस अभियान में आठ दिसंबर तक वोटर बनने के लिए आवेदन पत्र जमा किया जा सकता है।

12, 20, 26 और चार दिसंबर को विशेष अभियान चलेगा। इस दौरान सभी बूथों पर नाम जोड़ने, काटने और संशोधन समेत सभी तरह के आवेदन पत्रों के साथ बीएलओ मौजूद रहेंगे।

जिला निर्वाचन अधिकारी/डीएम कृष्णा करूणेश ने बताया कि निर्वाचन आयोग के निर्देश पर शुरू हुए इस मतदाता पुनरीक्षण अभियान में एक जनवरी 2023 को 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले युवा भी वोटर बन सकते हैं।  निर्वाचक नामावलियों का आलेख प्रकाशन नौ नवंबर को किया जा चुका है।

दावे और आपत्तियां प्राप्त करने यानी वोटर बनने के लिए आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि आठ दिसंबर 2022 है।  दावे और आपत्तियों का निस्तारण 26 दिसम्बर 2022 तक तथा निर्वाचक नामावलियों का अंतिम प्रकाशन पांच जनवरी 2023 को होगा।

पांच जनवरी तक तबादलों पर रोक
जिला निर्वाचन अधिकारी कृष्णा करूणेश ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण कार्य से जुड़े अधिकारियों मसलन उप जिला निर्वाचन अधिकारियों, निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों, सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों आदि के तबादलों पर पांच जनवरी तक के लिए रोक रहेगी। इस बीच निर्वाचन आयोग की अनुमति से ही तबादले किए जा सकेंगे।

विस्तार

गोरखपुर-फैजाबाद स्नातक निर्वाचन व निकाय चुनाव के लिए वोटर अभियान के बाद अब विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र का वोटर बनने के लिए भी मतदाता पुनरीक्षण अभियान शुरू हो गया है। नौ नवंबर से शुरू हुए इस अभियान में आठ दिसंबर तक वोटर बनने के लिए आवेदन पत्र जमा किया जा सकता है।

12, 20, 26 और चार दिसंबर को विशेष अभियान चलेगा। इस दौरान सभी बूथों पर नाम जोड़ने, काटने और संशोधन समेत सभी तरह के आवेदन पत्रों के साथ बीएलओ मौजूद रहेंगे।

जिला निर्वाचन अधिकारी/डीएम कृष्णा करूणेश ने बताया कि निर्वाचन आयोग के निर्देश पर शुरू हुए इस मतदाता पुनरीक्षण अभियान में एक जनवरी 2023 को 18 वर्ष की आयु पूरी करने वाले युवा भी वोटर बन सकते हैं।  निर्वाचक नामावलियों का आलेख प्रकाशन नौ नवंबर को किया जा चुका है।

दावे और आपत्तियां प्राप्त करने यानी वोटर बनने के लिए आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि आठ दिसंबर 2022 है।  दावे और आपत्तियों का निस्तारण 26 दिसम्बर 2022 तक तथा निर्वाचक नामावलियों का अंतिम प्रकाशन पांच जनवरी 2023 को होगा।

पांच जनवरी तक तबादलों पर रोक

जिला निर्वाचन अधिकारी कृष्णा करूणेश ने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग ने निर्वाचक नामावलियों के पुनरीक्षण कार्य से जुड़े अधिकारियों मसलन उप जिला निर्वाचन अधिकारियों, निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों, सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों आदि के तबादलों पर पांच जनवरी तक के लिए रोक रहेगी। इस बीच निर्वाचन आयोग की अनुमति से ही तबादले किए जा सकेंगे।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.