Global Handwashing Day 2022: हैंड हाइजीन को इग्नोर करेंगे तो होंगी ये बीमारियां, जानें हाथों को साफ करने का सही तरीका

हाइलाइट्स

आज मनाया जा रहा है ‘ग्लोबल हैंडवॉशिंग डे’.
रेगुलर हाथ धोना बीमार होने और बीमारी फैलाने से बचने का आसान तरीका है.
हाथों को कम से कम 20 सेकेंड तक साबुन लगाकर साफ करना चाहिए.

Global Handwashing Day 2022: आज मनाया जा रहा है ‘ग्लोबल हैंडवॉशिंग डे’. इस दिन को मनाने का मुख्य उद्देश्य है खराब हैंड हाइजीन के कारण होने वाली बीमारियों को रोकने के लिए एक प्रभावी और किफायती तरीके के रूप में साबुन से हाथों को धोने के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना. जब से कोरोना माहामारी की शुरुआत हुई है, तब से हाथों की हाइजीन पर अधिक ध्यान दिया जाने लगा है, जो एक हेल्दी हैबिट है. हाथ गंदे होंगे तो कई तरह के बैक्टीरिया, वायरस इसके जरिए शरीर में प्रवेश करके आपको बीमार कर सकते हैं. ऐसे में बच्चे से लेकर बड़ों तक हर किसी को हाथों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए. आइए जानते हैं हाथों की हाइजीन मेंटेन ना रखने से होने वाली बीमारियों के बारे में. साथ ही ये भी जानें कि हाथों को साफ रखने का बेस्ट तरीका क्या है.

इसे भी पढ़ें: World Hand Hygiene Day: इन चीजों को छूने के बाद जरूर धोएं हाथ, आज ही जान लें

हाथों की हाइजीन मेंटेन ना रखने से होने वाली बीमारियां

  • यदि आप हांथों को अच्छी तरह से साफ नहीं रखते और गंदे हाथों से ही भोजन करते हैं तो आपको डायरिया, पेट से संबंधित समस्याएं हो सकती हैं.
  • हाथों की सफाई पर ध्यान ना देने से हेपेटाइटिस ए की समस्या होने का रिस्क बढ़ सकता है.
  • टाइफॉएड, स्वाइन फ्लू, ई कोली पॉयजनिंग हो सकती है.
  • कॉमन कोल्ड, पेट दर्द, पेट में इंफेक्शन आदि हो सकता है.
  • फूड पॉयजनिंग होने का खतरा सबसे अधिक रहता है.
  • फेफड़ों से संबंधित इंफेक्शन, बीमारी भी हो सकती है.

कब-कब धोएं अपने हाथ
मायोक्लिनिक डॉट ओआरजी में छपी एक खबर के अनुसार, बार-बार हाथ धोना बीमार होने और बीमारी फैलाने से बचने के बेहतरीन और आसान तरीकों में से एक है. ऐसे में अपने हाथों को कब और किस तरह से धोना चाहिए, ये जानना हर किसी के लिए आवश्यक है. आप दिन भर में कई लोगों से हाथ मिलाते हैं, कई चीजों, सतहों आदि को छूते हैं, इससे हाथों में कीटाणु जमा होते जाते हैं. जब आप बिना हाथों को धोए आंखों, नाक या मुंह को छूते हैं, तो इन कीटाणुओं से खुद को संक्रमित कर सकते हैं.

कब धोएं हाथ

  • खाना बनाने और खाने से पहले हाथों को अच्छी तरह से धोएं.
  • घावों का उपचार करने या किसी बीमार व्यक्ति की देखभाल करने से पहले और बाद में.
  • किसी वस्तु या सतह जैसे दरवाज़े के हैंडल, शॉपिंग कार्ट आदि छूने के बाद हाथों को साफ करें.
  • सार्वजनिक स्थानों पर किसी भी चीज को छूने के बाद हाथ साफ करें.
  • कॉन्टैक्ट लेंस लगाने या हटाने से पहले हाथ करें साफ.
  • शौचालय का उपयोग करने, डायपर बदलने जैसे काम करने के बाद हाथों को साफ करें.
  • किसी जानवर, पशु चारा या पशु अपशिष्ट को छूने के बाद.
  • बहती नाक, खांसने या छींकने के बाद हाथों को साफ करें.
  • कचरा फेंकने के बाद हाथ साफ करें.
  • पालतू जानवरों को नहलाने, खाना खिलाने, उनके साथ खेलने के बाद हाथों को अवश्य धोएं.

हाथों को किस तरह से करें साफ

आमतौर पर अपने हाथों को साबुन और पानी से धोना सबसे अच्छा होता है. किसी अच्छे मेडिकेटेड साबुन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. ये सामान्य साबुन की तुलना में कीटाणुओं को मारने में अधिक प्रभावी होते हैं. हाथों को इस तरह धोएंगे तो अधिक से अधिक हाथों की सफाई होगी और हाथ जर्म फ्री रहेंगे-

  • अपने हाथों को नल के नीचे साफ और बहते पानी में रखकर गीला करें.
  • आप ठंडे या फिर गुनगुने पानी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.
  • अब अच्छी क्वालिटी का साबुन लगाएं और खूब झाग बनाएं.
  • अपने हाथों को कम से कम 20 सेकेंड तक रगड़ें.
  • हाथों की हथेलियों, कलाई, उंगलियों के बीच और अपने नाखूनों के नीचे सभी सतहों को अच्छी तरह से साफ करें.
  • अब पानी से हाथों को अच्छी तरह से धोएं.
  • हाथों को एक साफ तौलिये से सुखाएं या फिर हवा में भी सुखा सकते हैं.

Tags: Health, Lifestyle

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.