EO किंगपाल सिंह जाट को ACB ने 5 लाख की रिश्वत लेते पकड़ा, दुकान नहीं तोड़ने की एवज में लिए रुपये

हाइलाइट्स

अधिकारी किंगपाल सिंह परिवादी को काफी समय से परेशान कर रहा था
एसीबी की टीम आरोपी अधिकारी के आवास और अन्य ठिकानों की ले रही है तलाशी
एसीबी बीते दो-ढाई साल से भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ कर रही है ताबड़तोड़ कार्रवाई

अलवर. राजस्थान में भ्रष्टाचार की जड़े दिन प्रतिदिन गहरी होती जा रही है. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (Anti-Corruption Bureau) ने मंगलवार को एक फिर एक अधिकारी को पांच लाख रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. रिश्वत लेते पकड़ा गया अधिकारी किंगपाल सिंह जाट अलवर की खेड़ली नगरपालिका में अधिशासी अधिकारी (EO Kingpal Singh Jat) पद पर तैनात है. फिलहाल एसीबी ने रिश्वत लेते पकड़े गए अधिकारी के आवास और अन्य अन्य ठिकानों पर सर्च ऑपरेशन चला रखा है. अधिकारी से पूछताछ भी की जारी है.

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के डीएसपी परमेश्वरलाल ने बताया कि एसीबी की अलवर-द्वितीय इकाई को परिवादी से शिकायत मिली थी कि खेड़ली नगरपालिका अधिशासी अधिकारी किंगपाल सिंह जाट उससे पांच लाख रुपये की रिश्वत की मांग कर रहा है. रिश्वत की यह राशि नगरपालिका क्षेत्र में स्थित दुकानों के निर्माण को नहीं तोड़ने की एवज में मांगी गई है. परिवादी का कहना था कि अधिकारी ने उसकी वैध पट्टाशुदा एवं निर्माण स्वीकृति प्राप्त करने के बाद बनाई जा रही दुकानों को अवैध बताया. जाट ने निर्माण को नहीं तोड़ने एवं उसके पक्ष में रिपोर्ट देने की एवज में 5 लाख रुपये की रिश्वत मांगी है.

आरोपी अधिकारी के ठिकानों पर चल रहा है सर्च ऑपरेशन
शिकायत के बाद एसीबी उसका सत्यापन कराया. सत्यापन में रिश्वत की मांग की शिकायत सही पाई गई. इस पर मंगलवार को सुबह एसीबी की टीम ने अधिकारी को रंगे हाथों पकड़ने के लिए अपना जाल बिछाया. परिवादी ने जैसे ही किंगपाल सिंह जाट को रिश्वत की राशि के 5 लाख रुपये दिए ब्यूरो की टीम ने उसे रंगे हाथों दबोच लिया. एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एमएन के निर्देशन में आरोपी के निवास और अन्य ठिकानों की तलाशी ली जा रही है. इसके साथ ही उससे पूरे मामले में पूछताछ की रही है.

एसीबी ताबड़तोड़ कार्रवाइयां करने में जुटी है
उल्लेखनीय है कि राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो पिछले काफी समय से भ्रष्ट अधिकारियों और कर्मचारियों समेत जनप्रतनिधियों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई करने में जुटा है. इसके बावजूद भ्रष्टाचार के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं. इस साल एसीबी ने बीते वर्ष के मुकाबले ज्यादा कार्रवाइयां कर खुद अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया है.

Tags: Alwar News, Anti corruption bureau, Crime News, Rajasthan news

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.