Bhadohi: प्रयागराज की किशोरी के हाथ-पैर बांधकर मंदिर के पास फेंका, सगाई टूटने पर युवक ने लिया ‘बदला’

खेत में बेहोश मिली थी किशोरी

खेत में बेहोश मिली थी किशोरी
– फोटो : सांकेतिक तस्वीर

ख़बर सुनें

भदोही जिले के छनौरा स्थित हनुमान मंदिर के समीप शनिवार सुबह 11 बजे झाड़ी में एक किशोरी अचेत हाल में मिली। उसके हाथ और पैर रस्सी से बंधे थे। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने उसे सीएचसी सुरियावां में भर्ती कराया। जहां होश आने पर उसकी पहचान प्रयागराज निवासी के रूप में बताई। पुलिस ने परिवार वालों को सूचना दे दी।

छनौरा निवासी सुरेश बिंद ने बताया कि शनिवार को सुबह 11 बजे उसकी पोती मंदिर के समीप से गुजर रही थी। उसी दौरान झाड़ी के बीच एक किशोरी अचेत हाल में दिखी। जिसे देखकर वह डर गई। सूचना पर बड़ी संख्या में ग्रामीण वहां पहुंच गए। पुलिस की मौजूदगी में एंबुलेंस से उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुरियावां में भर्ती कराया गया।

सगाई टूटने के बाद भी दोनों में होती थी बात

हालत सामान्य होने पर उसने अपना नाम-पते की जानकारी देते हुए पुलिस को बताया कि उसकी सगाई अर्जुनपुर निवासी एक युवक से हुई थी। सगाई के कुछ दिन बाद परिवार वालों ने किन्हीं कारणों से शादी के लिए मना कर दिया, लेकिन युवक से उसकी बात होती रहती थी। शनिवार को सुबह फोन पर उसने उसे चनईपुर में बुलाया।

वहां आने पर किसी बात को लेकर झगड़ा हो गया और युवक ने उसके हाथ-पैर को बांधकर उसे झाड़ी में फेंक दिया। थाना प्रभारी प्रवीण कुमार राय ने बताया कि किशोरी के बयान की जांच की जा रही है। सरायममरेज थाना और परिवार वालों को जानकारी दी गई है। अर्जुनपुर के युवक को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।   

विस्तार

भदोही जिले के छनौरा स्थित हनुमान मंदिर के समीप शनिवार सुबह 11 बजे झाड़ी में एक किशोरी अचेत हाल में मिली। उसके हाथ और पैर रस्सी से बंधे थे। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने उसे सीएचसी सुरियावां में भर्ती कराया। जहां होश आने पर उसकी पहचान प्रयागराज निवासी के रूप में बताई। पुलिस ने परिवार वालों को सूचना दे दी।

छनौरा निवासी सुरेश बिंद ने बताया कि शनिवार को सुबह 11 बजे उसकी पोती मंदिर के समीप से गुजर रही थी। उसी दौरान झाड़ी के बीच एक किशोरी अचेत हाल में दिखी। जिसे देखकर वह डर गई। सूचना पर बड़ी संख्या में ग्रामीण वहां पहुंच गए। पुलिस की मौजूदगी में एंबुलेंस से उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुरियावां में भर्ती कराया गया।

सगाई टूटने के बाद भी दोनों में होती थी बात

हालत सामान्य होने पर उसने अपना नाम-पते की जानकारी देते हुए पुलिस को बताया कि उसकी सगाई अर्जुनपुर निवासी एक युवक से हुई थी। सगाई के कुछ दिन बाद परिवार वालों ने किन्हीं कारणों से शादी के लिए मना कर दिया, लेकिन युवक से उसकी बात होती रहती थी। शनिवार को सुबह फोन पर उसने उसे चनईपुर में बुलाया।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.