Aaj Ka Mausam: 10 से ज्यादा राज्यों तीन दिनों तक होगी भारी बारिश

Aaj Ka Mausam: पहाड़ी राज्यों में हो रही बर्फबारी का असर मैदानी इलाकों दिखने लगी है। उत्तर और मध्य भारत में ठंड बढ़ने लगी है। जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, मध्यप्रदेश, राजस्थान समेत कई राज्यों में तापमान के पारे में गिरावट दर्ज की जा रही है। लोग शीतलहर से परेशान होने लगे हैं। मौसम विभाग के अनुसार उत्तर भारत में ठंड बढ़ने के आसार हैं वहीं दूसरी ओर दक्षिण भारत के राज्यों में आज भी बारिश के आसार हैं।

इस बीच मौसम विभाग (IMD) ने अगले कुछ दिनों में देश के कई हिस्सों तापमान में अचानाक गिरावट का पूर्वानुमान व्यक्त किया है। मौसम विभाग के मुताबिक आज भी गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद, लद्दाख, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के पहाड़ों पर बर्फबारी के साथ बारिश की संभावना है।

पहाड़ों पर हो रहे बर्फबारी का असर देश के मैदानी इलाकों में साफ दिखने को मिल रहा है। दिल्ली-एनसीआर, उत्तर, मध्य भारत समेत देश के कई हिस्सों में तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है । के अनुसार पर्वतीय क्षेत्रों से आ रही सर्द हवाओं के कारण पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, दिल्ली समेत कई राज्यों में ठंड बढ़ी है और आने वाले दिनों में सर्दी के और बढ़ने की पूरी संभावना है।

मौसम विभाग के अनुसार अगले एक सप्ताह के दौरान दिल्ली-एनसीआर में न्यूनतम तापमान 8 डिग्री सेल्सिसय के आसपास रहेगा। इस दौरान रात के समय ठंड में और इजाफा होगा, जबकि दिन में तेज धूप निकलने के कारण लोगों को ठंड से राहत मिलती रहेगा। साथ ही एमआईडी का कहना है कि दिल्ली-एनसीआर में दिसंबर के मध्य तक शीतलहर का आगमन हो सकता है। इसके साथ ही इस साल ठंड अपने कई रिकॉर्ड तोड़ सकता है।

मौसम विभाग के अनुसार कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, अंडमान और निकोबार जैसे राज्यों में अगले कुछ दिनों तक हल्की से भारी बारिश की संभावना है। गौरतलब है दक्षिण भारत के कई इलाकों में पिछले कई दिनों से लगातार बारिश हो रही है। जिससे इन इलाकों में भी तापमान का पारा गिरा है।

दरअसल दक्षिण अंडमान सागर में एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उभरने का अंदेशा है। इसके कारण 5 दिसंबर के आसपास दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी और इससे सटे दक्षिण अंडमान सागर के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है। जिसका पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और केंद्रित होने के आसार हैं। अगले 48 घंटों के दौरान बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पूर्व में एक दबाव बन जाएगा। इसके बाद, इसके पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 8 दिसंबर को तमिलनाडु-पुडुचेरी तटों के पास पहुंचने की संभावना है।

निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट वेदर (Skymet Weather) के तमिलनाडु के बाकी हिस्सों और दक्षिण आंध्र प्रदेश और दक्षिण कर्नाटक मुताबिक अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के दक्षिणी हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ भारी बारिश संभव है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *