4 साल बाद पकड़े गए गुरुनानक स्कूल के शिक्षक के कातिल, लेडी टीचर ने दी थी सुपारी

रांची. झारखंड पुलिस ने चार साल के लंबे वक्त के बाद आखिरकार रांची के केमिस्ट्री के टीचर शिवप्रसाद की हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया है. पुलिस के मुताबिक बायोलॉजी टीचर श्वेता मालिनी ने ही केमिस्ट्री के टीचर शिवप्रसाद की हत्या की साजिश रची थी. 4 साल के बाद खुली हत्या की गुत्थी सुलझी. पुलिस जांच में ये बाते सामने आई कि शिक्षिका श्वेता मालिनी ने अपने ही सहयोगी रहे केमिस्ट्री के शिक्षक शिवप्रसाद की हत्या सुपारी देकर करवा दी थी. रांची पुलिस ने मामले में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

शिव प्रसाद की हत्या की साजिश रचने के आरोप में पुलिस ने बायोलॉजी शिक्षिका श्वेता मालिनी ,कृष्णा प्रसाद के साथ-साथ गोली मारने वाले दोनों शूटरों अशोक लकड़ा और रोहित सिंह को गिरफ्तार कर लिया है. 7 जुलाई 2018 को रांची के गुरु नानक स्कूल के शिक्षक शिव प्रसाद की हत्या लालपुर थाना क्षेत्र में कर दी गई थी. इस हत्याकांड की गुत्थी को सुलझाने के लिए रांची पुलिस ने काफी मशक्कत की लेकिन वो सफल नहीं हो पा रही थी लेकिन 4 वर्ष बाद वो घड़ी आखिरकार आ ही गई. पुलिस ने इस हत्या की गुत्थी को सुलझा लिया.

दरअसल इस हत्या को लेकर रांची पुलिस पर काफी दबाव था और इसी दरम्यान रांची के एसएसपी को जानकारी मिली कि रांची के होटवार जेल में बंद कृष्णा नाम के व्यक्ति का इस हत्याकांड से सीधा जुड़ाव है. पुलिस जब मामले की तफ्तीश में जुटी तक उन्हें यह जानकारी मिली कि शिवप्रसाद पहले तनीषा कोचिंग सेंटर में पढ़ाया करते थे. उस कोचिंग सेंटर में कृष्णा प्रसाद नाम का व्यक्ति भी काम किया करता था जो श्वेता मालिनी का काफी करीबी था. एक ठोस लीड मिलते ही सिटी डीएसपी और लालपुर थाना प्रभारी राजीव कुमार ने सबसे पहले कृष्णा को पूछताछ की, जिसमें कृष्णा ने राज खोले.

उसने पुलिस को बताया कि उसने ही अशोक लकड़ा और रोहित सिंह नामक दो अपराधियों को शिवप्रसाद की हत्या के लिए 50 हजार की सुपारी एडवांस में दिया था. हत्या का सौदा दो लाख में तय हुआ था. जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम ने छापेमारी कर अशोक और रोहित दोनों को गिरफ्तार कर लिया. इस पूरे मामले में सुपारी देने वाली श्वेता मालिनी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. इस मामले में टेक्निकल एविडेंस के लिए पुलिस ने श्वेता मालिनी का सीडीआर भी निकला है, जिसमें इस बात के सुबूत मिले हैं कि कृष्णा और श्वेता मालिनी के बीच काफी बातचीत हुई है. रांची एसएसपी ने बताया की व्यवसायिक रंजिश की वजह से गुरुनानक के केमिस्ट्री टीचर शिवप्रसाद की हत्या की साजिश रची गई थी.

Tags: Crime News, Jharkhand news, Ranchi news

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.