हरदोई में आरोपी को पुलिस ने पैर में मारी गोली: खबर सुनकर पिता की हार्ट अटैक से मौत, 11 दिन पहले युवती से रेप के बाद की थी हत्या

हरदोई2 घंटे पहले

आरोपी को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

हरदोई में 11 दिन से लापता एक युवती का शव गन्ने के खेत में मिला है। युवती घर से मजार जाने के लिए कहकर निकली थी। वापस न लौटने पर पर परिजनों ने आरोपियों के खिलाफ नामजद FIR दर्ज करवाई। पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर युवती के शव को गन्ने के खेत बाहर निकलवाया। इसके बाद पुलिस ने दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया, पुलिस ने एक आरोपी के पैर में गोली मार दी। आरोपी के पिता को गोली लगने की खबर से हार्ट अटैक आ गया और उसकी मौत हो गई।

युवक के पिता की हो गई मौत।

युवक के पिता की हो गई मौत।

ट्रैक्टर चलाता है आरोपी

हरदोई के मझिला थाना क्षेत्र के एक गांव में एक 22 वर्षीय युवती 22 नवंबर को शाम करीब 5 बजे घर से मजार जाने की बात कहकर निकली थी जिसके बाद वह अपने घर नहीं पहुंची। परिजनों ने खोजबीन के बाद थाने में एफ आई आर दर्ज कराई और एक शख्स को नामजद किया परिजनों ने बताया कि बेगूसराय हाथीपुर का रहने वाला प्रदीप जो ट्रैक्टर चलाता है वह उनकी बेटी को बहला-फुसलाकर ले गया है। 11 दिनों तक पुलिस सोती रही और उसके बाद पुलिस ने शनिवार को प्रदीप को हिरासत में लिया तो पता चला कि वह इरफान नाम के एक व्यक्ति का ट्रैक्टर चलाता है।

एक आरोपी के पैर में मारी गोली

प्रदीप ने गिरफ्तारी के बाद गन्ने के खेत में युवती को दफन करने की बात को स्वीकारा जिसके बाद उसकी निशानदेही पर युवती के शव को बरामद किया गया इसके बाद पुलिस ने प्रदीप और ट्रैक्टर मालिक इरफान को गिरफ्तार कर लिया। जिसके बाद हरदोई पुलिस ने इरफान के पैर में गोली मार दी, और उसको शाहबाद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया जहां उसकी हालत को नाजुक देखते हुए उसको हरदोई के मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया।

सदमें में हो गई आरोपी के पिता की मौत

पुलिस द्वारा आरोपी के गोली मारे जाने की खबर जब आरोपी इरफान के पिता फारुख को लगी तो उनकी सदमे में हार्ट अटैक से मौत हो गई। पूरे मामले में पुलिस की लापरवाही सामने आई है अगर पुलिस वक्त रहते सुधरे लेती तो युवती की मौत ना होती। पुलिस द्वारा आरोपी के गोली मारे जाने की खबर जब आरोपी इरफान के पिता फारुख को लगी तो उनकी सदमे में हार्ट अटैक से मौत हो गई। पूरे मामले में पुलिस की लापरवाही सामने आई है अगर पुलिस वक्त रहते सुधरे लेती तो युवती की मौत ना होती। वही एक इनोसेंट व्यक्ति की बिना किसी अपराध किए पुलिस की कार्रवाई से मौत हो गई है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *