सिग्नेचर ग्लोबल की दिसंबर अंत तक 1,000 करोड़ रुपये का आईपीओ लाने की योजना

प्रतिरूप फोटो

Google Creative Common

रियल एस्टेट कंपनी सिग्नेचर ग्लोबल इस माह के अंत तक अपना 1,000 करोड़ रुपये का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) ला सकती है। कंपनी मुख्य रूप से सस्ते मकान बनाने पर ध्यान केंद्रित करती है। सिग्नेचर ग्लोबल (इंडिया) लि. को 24 नवंबर को भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) से आईपीओ की मंजूरी मिल गई है। कंपनी ने जुलाई में सेबी के पास आईपीओ दस्तावेज जमा कराए थे।

रियल एस्टेट कंपनी सिग्नेचर ग्लोबल इस माह के अंत तक अपना 1,000 करोड़ रुपये का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) ला सकती है। कंपनी मुख्य रूप से सस्ते मकान बनाने पर ध्यान केंद्रित करती है।
सिग्नेचर ग्लोबल (इंडिया) लि. को 24 नवंबर को भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) से आईपीओ की मंजूरी मिल गई है।
कंपनी ने जुलाई में सेबी के पास आईपीओ दस्तावेज जमा कराए थे।
सूत्रों ने बताया कि कंपनी जल्द नया अद्यतन दस्तावेजों का मसौदा जमा कराएगी, क्योंकि उसका इरादा इस माह के अंत तक पूंजी बाजार में उतरने का है।

इसे भी पढ़ें: अश्विनी वैष्णव ने की 42 सीईओ के साथ बैठक, कहा- आने वाले वर्षों में भारत बनेगा प्रौद्योगिकी निर्यातक देश

दस्तावेजों के अनुसार, आईपीओ के तहत कंपनी 750 करोड़ रुपये के नए शेयर जारी करेगी और 250 करोड़ रुपये की बिक्री पेशकश (ओएफएस) लाएगी।
दिल्ली-एनसीआर की कंपनी सिग्नेचर ग्लोबल ने 2014 में अपनी अनुषंगी सिग्नेचर बिल्डर्स के जरिये परिचालन शुरू किया था। कंपनी ने सबसे पहले हरियाणा के गुरुग्राम में 6.13 एकड़ जमीन पर ‘सोलेरा’ परियोजना पेश की थी।
दस्तावेजों के मसौदे के अनुसार, ‘‘हमारा परिचालन एक दशक से भी कम समय में काफी तेजी से बढ़ा है। 31 मार्च, 2022 तक हमने दिल्ली-एनसीआर में 23,453 आवासीय और वाणिज्यिक इकाइयां बेची हैं। इनमें कुल बिक्री योग्य क्षेत्रफल 1.45 करोड़ वर्ग फुट से अधिक है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *