श्रमजीवी एक्सप्रेस का इंजन फेल: काशी रेलवे स्टेशन पर करीब दो घंटे खड़ी रही, परेशान रहे यात्री

काशी रेलवे स्टेशन

काशी रेलवे स्टेशन
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

काशी रेलवे स्टेशन पर रविवार को श्रमजीवी एक्सप्रेस का इंजन फेल गया। इसके चलते एक घंटा 50 मिनट तक ट्रेन खड़ी रही। इससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। वहीं, कैंट रेलवे स्टेशन उतरने वाले अधिकांश यात्री काशी रेलवे स्टेशन पर ही उतरकर ऑटो से रवाना हो गए। 

राजगीर से नई दिल्ली जा रही श्रमजीवी सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन से कैंट रेलवे स्टेशन के लिए रवाना हुई। ट्रेन अपराह्न 3:20 बजे काशी रेलवे स्टेशन पर पहुंची थी। इसी दौरान प्लेटफार्म नंबर एक से मालगाड़ी जाने के दौरान लाइन क्लियर न होने पर ट्रेन रोकनी पड़ी।

मालगाड़ी जाने के बाद लाइन क्लियर हुई तो ट्रेन को लेकर लोको पायलट चलने को तैयार हुआ। लेकिन, ट्रेन के इलेक्ट्रिकल इंजन के पेंटों ने काम करना बंद कर दिया। इसकी जानकारी स्टेशन और कंट्रोल रूम में दी गई, जिसके बाद कैंट रेलवे स्टेशन से दूसरा इंजन भेजा गया तब जाकर शाम 5:10 बजे ट्रेन कैंट रेलवे स्टेशन के लिए रवाना हुई।

वहीं, पहले से ही विलंब से चल रही ट्रेन कैंट रेलवे स्टेशन पर 3:02 बजे की जगह 5:20 बजे प्लेटफार्म नंबर पांच पर पहुंची। काशी स्टेशन पर करीब दो घंटे ट्रेन खड़ी होने के कारण यात्री परेशान रहे। इनमें कैंट रेलवे स्टेशन पर उतरने वाले अधिकांश यात्री ऑटो से चले गए।

कैंट रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर पांच पर भी यात्री ट्रेन के आने की जानकारी हो जाने के बाद विलंब होने से परेशान दिखे। काशी रेलवे स्टेशन के अधीक्षक केके सिंह ने बताया कि इंजन फेल होने के कारण ट्रेन खड़ी थी। दूसरा इंजन आने के बाद रवाना किया गया। 

विस्तार

काशी रेलवे स्टेशन पर रविवार को श्रमजीवी एक्सप्रेस का इंजन फेल गया। इसके चलते एक घंटा 50 मिनट तक ट्रेन खड़ी रही। इससे यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। वहीं, कैंट रेलवे स्टेशन उतरने वाले अधिकांश यात्री काशी रेलवे स्टेशन पर ही उतरकर ऑटो से रवाना हो गए। 

राजगीर से नई दिल्ली जा रही श्रमजीवी सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन पंडित दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन से कैंट रेलवे स्टेशन के लिए रवाना हुई। ट्रेन अपराह्न 3:20 बजे काशी रेलवे स्टेशन पर पहुंची थी। इसी दौरान प्लेटफार्म नंबर एक से मालगाड़ी जाने के दौरान लाइन क्लियर न होने पर ट्रेन रोकनी पड़ी।

मालगाड़ी जाने के बाद लाइन क्लियर हुई तो ट्रेन को लेकर लोको पायलट चलने को तैयार हुआ। लेकिन, ट्रेन के इलेक्ट्रिकल इंजन के पेंटों ने काम करना बंद कर दिया। इसकी जानकारी स्टेशन और कंट्रोल रूम में दी गई, जिसके बाद कैंट रेलवे स्टेशन से दूसरा इंजन भेजा गया तब जाकर शाम 5:10 बजे ट्रेन कैंट रेलवे स्टेशन के लिए रवाना हुई।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.