श्रद्धा मर्डर केस: आफताब के पोस्टर में इस संत ने घोंपा तलवार, बेटियों से की खास अपील

हाइलाइट्स

अयोध्या के इस संत ने आफताब के पोस्टर पर तलवार घोंप कर पोस्टर को जलाया.
उन्होंने कहा कि प्रेम विवाह और लिव इन से बेटियों को परहेज करने की जरूरत है
संत परमहंस दास ने मोदी सरकार से भी कानून बनाने की मांग की

अयोध्या. दिल्ली के श्रद्धा वाल्कर मर्डर केस को लेकर देश भर में उबाल है. लोग इस केस के आरोपी आफताब को अपने-अपने तरीके से दंडित करने की मांग कर रहे हैं. इस बीच अयोध्या के एक संत ने खास अंदाज में आफताब को न केवल सजा देने की मांग की है बल्कि लड़कियों से भी खास अपील की है. जगदगुरु परमहंसाचार्य ने श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब के पोस्टर पर तलवार घोंप कर पोस्टर को जलाया. श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी का पोस्टर जलाने के बाद जगदगुरु परमहंसाचार्य ने भारत की बेटियों से अपील की.

उन्होंने कहा कि वह प्रेम करने से पहले जांच लें कि वह कोई जिहादी तो नहीं. परमहंसाचार्य ने भारत सरकार से मांग की है कि समान नागरिक संहिता और जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू किया जाए और लिविंग रिलेशनशिप पूर्ण रूप से खत्म की जाये. श्रद्धा मर्डर केस के आरोपी आफताब से नाराज जगदगुरु परमहंसाचार्य ने उसके पोस्टर को जलाने के साथ ही देश की बेटियों से अपील करते हुए कहा कि वह माता-पिता के मर्जी से ही विवाह करें और अगर प्रेम है तो फिर जांच करके यह जान लें कि वह जिहादी तो नहीं.

मुस्लिम समाज के लोगों पर हमलावर होते हुए जगदगुरु परमहंसाचार्य ने कहा कि इस तरीके का जघन्य अपराध के प्रचार विधि 40 बच्चे वाले लोग ही करते हैं. जगतगुरु परमहंसाचार्य ने कहा कि जिहादी आफताब का आज मैंने पोस्टर जलाया है और उसके पोस्टर पर तलवार से मैंने वार किया है यह एक ऐसा जिहादी है जो राक्षस से भी बड़ा राक्षस है. जगदगुरु ने कहा कि भारतीय संस्कृत में बेटी की पूजा देवी के रूप में होती है. भारतीय संस्कृत में ईश्वर का भी नाम मातृशक्ति के बाद लिया जाता है ऐसी पवित्र धरती में इस तरह का जिहादी पैदा हुआ है यह कलंक है और मानवता को तार-तार किया है. जगदगुरु परमहंसाचार्य ने कहा कि ये जरूर जांच लें कि कोई आफताब तो नहीं जो पहले मीठा और मधुर बोलकर बच्चियों को प्रेम जाल में फंसा लेते हैं उसके बाद कहीं उनकी लाश सूटकेस में मिलती है कहीं बोरी में मिलती है.

आपके शहर से (अयोध्या)

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश

जगदगुरु परमहंसाचार्य ने केंद्र सरकार से मांग की है कि लिविंग रिलेशनशिप को तुरंत खत्म किया जाए और समान नागरिक संहिता और जनसंख्या नियंत्रण कानून सरकार तत्काल लागू करें. जगदगुरु परमहंस आचार्य ने हमला बोलते हुए कहा कि जितने भी हीनियस क्राइम करने वाले हैं वह अधिक बच्चा पैदा करने वाले लोग हैं

Tags: Shraddha murder case, Shraddha walkar

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *