शेखावाटी से BJP का शंखनाद, मोदी सरकार की योजनाओं के जरिए ऐसे बनाई जा रही आगामी चुनावों की रणनीति

झुंझुनूं: आगामी चुनावों की रणनीति को अंतिम रूप देने के लिए बीजेपी कार्यसमिति की बैठक हो रही है। झुंझुनूं में चल रही इस बैठक में पार्टी के दिग्गज नेता हिस्सा ले रहे हैं जिनमें पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय, प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह, प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया, संगठन मंत्री चंद्रशेखर, और सह प्रभारी विजया रहाटकर शामिल हैं। बीजेपी कार्यसमिति की बैठक में प्रमुख दो मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। पहला मुद्दा आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर चुनावी रणनीति को अंतिम रूप दिए जाने का और दूसरा प्रदेश सरकार के खिलाफ होने वाली आक्रोश रैली की तैयारियों का है।

केन्द्रीय नेतृत्व के निर्देशों की पालना के तहत होंगे
पिछले दिनों पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने दिल्ली में बीजेपी कार्यसमिति की बैठक ली जिसमें प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया और पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सहित तमाम दिग्गज नेताओं ने हिस्सा लिया था। बैठक में केन्द्रीय नेतृत्व ने पार्टी की अंदरुनी गुटबाजी को लेकर नसीहत दे दी थी। एक दूसरे पर तंज कसने के बजाय सभी को मिलकर आगामी चुनाव की तैयारियों में जुटने के निर्देश दिए। केन्द्रीय नेतृत्व की ओर से चुनावी तैयारी को लेकर पूरा प्लान तैयार किया गया है। उसी प्लान के अनुरूप प्रदेश पदाधिकारियों को कार्य करने के निर्देश दिए गए हैं। प्रदेश के सभी कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर चुनावी केम्पेन में जुटने का आह्वान किया गया है।

केन्द्रीय सरकार की उपलब्धियों की किट बांटी गई
आगामी विधानसभा चुनावों में पूरा फोकस केन्द्र सरकार की उपलब्धियों पर रहेगा। पिछले 8 साल में केन्द्र सरकार की क्या क्या उपलब्धियां रही। इसे लेकर बीजेपी की ओर से बुकलेट्स छपवाई गई हैं। वार्ड और ब्लॉक स्तर के पदाधिकारियों को बुकलेट की किट बांटी गई है ताकि वे अपने वार्ड, ब्लॉक और मोहल्ले में हर व्यक्ति को केन्द्र सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी दे सके। विधानसभा चुनावों में बीजेपी हर बूथ पर घर घर पहुंचने का प्लान बना रही है ताकि चुनाव जीतने में कोई कसर बाकी ना रह जाए।

प्रदेश सरकार के 4 साल पूरे होने पर निकाली जाएगी आक्रोश रैली
राजस्थान की कांग्रेस सरकार के चार साल का कार्यकाल पूरा होने पर बीजेपी आक्रोश रैली निकालने जा रही है। 17 दिसम्बर को जयपुर में प्रदेश व्यापी आक्रोश रैली निकाली जाएगी जिसमें एक लाख से ज्यादा लोगों की भीड़ एकत्रित होने के दावे किए जा रहे हैं। इसी के साथ प्रत्येक जिला मुख्यालयों पर भी विभिन्न मुद्दों को लेकर विरोध प्रदर्शन किए जाएंगे। चूंकि 3 दिसम्बर से 20 दिसम्बर तक राहुल गांधी भी भारत जोड़ो यात्रा के तहत राजस्थान में रहेंगे। ऐसे में बीजेपी ज्यादा जोश के साथ कांग्रेस के खिलाफ प्रदर्शन करने वाली है।

बाप-दादा की शराब: महारानी महनसर की खुशबू से खींचे चले आते हैं लोग, मुंह में जाते ही बना लेती है दीवाना
प्रदेश में लगातार बढ रहे अपराधों को बड़ा मुद्दा बनाया जा रहा है। साथ ही किसानों का कर्ज माफ नहीं होने, बेरोजगारों की मांगे पूरी नहीं होने, महंगाई भत्ता नहीं दिए जाने, बिजली की दरों में लगातार बढोतरी करने सहित कई मुद्दों को लेकर सरकार से जवाब तलब किया जाएगा।

Satya Pal Malik: उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी पर सत्यपाल मलिक का बड़ा बयान, देखिए क्या कहा

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.