शर्मनाक! तड़पती रही 10 साल की बच्ची, अस्पताल पहुंचाने की जगह आधे घंटे तक लोग पूछते रहे- बेटी किसने मारा

हाइलाइट्स

10 साल की मासूम लड़की की हत्या के मामले में एक नया वीडियो सामने आया है
वीडियो में मासूम बच्ची हमले के बाद घायल अवस्था में 30 मिनट तक तड़पती रही
बच्ची को अस्पताल पहुंचाने की जगह लोग उसका वीडियो बनाते रहे

पीलीभीत. उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में एक बार फिर मानवता शर्मसार हुई है. चाचा के साथ मेला घूमने गई 10 साल की मासूम लड़की की हत्या के मामले में एक नया वीडियो सामने आया है. इस वीडियो में  मासूम बच्ची हमले के बाद घायल अवस्था में 30 मिनट तक तड़पती रही. मौके पर लोग भी पहुंचे और उसे अस्पताल पहुंचाने की जगह उसका वीडियो बनाते रहे. उससे पूछते रहे कि यह किसने किया. इस बीच मासूम ने दम तोड़ दिया.

दरअसल, पिछले तीन महीनों में पीलीभीत जनपद में आपराधिक वारदातों में बहुत इजाफा हुआ है. साथ ही आम जनता इन मामलों में संवेदनशील नजर आई है. ऐसा ही कुछ इस मामले में हुआ. मासूम हमले के बाद दर्द से तड़प रही थी और लोग वीडियो बना रहे थे. उसे अस्पताल पहुंचाने की जगह उससे पूछ रहे थे कि यह किसने किया. इससे पहले तीन महीने पहले भी इसी तरह कि एक घटना पीलीभीत शहर में हुई थी. उसमें इब्राहिम नाम का लड़का सड़क पर तड़प-तड़प कर मर गया, लेकिन लोग उसका वीडियो बनाते रहे. उसका भी वीडियो वायरल हुआ था. किसी ने भी उसे बचाने की जहमत नहीं उठाई थी.

तड़पती मासूम का बनाते रहे वीडियो
दरअसल, घटना थाना अमरिया क्षेत्र स्थित माधौपुर गांव निवासी 10 वर्षीय मासूम बच्ची अनम  पुत्री अनीस का शनिवार सुबह खेत में लहूलुहान हालत मेंशव मिला था. इस मामले में एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें मासूम करीब आधे घण्टे तक लहूलुहान अवस्था मे जमीन पर पड़ी तड़पती रही और लोग उसका वीडियो बनाते रहे. किसी ने भी घायल को उपचार के लिए अस्पताल ले जाने की जहमत नहीं उठाई। कुछ देर बाद घायल मासूम ने तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया.

परिजनों ने रंजिशन हत्या का लगाया आरोप
इसके बाद पुलिस को वारदात की सूचना दी. सूचना पर पहुंची पुलिस और एसएसपी ने घटनास्थल का मौका मुआयना कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। साथ ही फॉरेंसिक टीम को मौके पर साक्ष्य संकलन के लिए बुलाया. मृतिका मासूम अनम के चाचा सलीम का आरोप है कि बीती शाम गांव में हो रहे उर्स में 10 वर्षीय अनम अपने चाचा के साथ गई थी, जो घर वापस नहीं लौटी तो तलाश शुरू की. जिसके बाद तलाश के दौरान लहूलुहान अनम खेत मे तड़पती मिली, जिसने कुछ देर बाद दम तोड़ दिया। उनका आरोप है कि बेटी की रंजिशन हत्या की गई, जिसको लेकर पुलिस जांच पड़ताल कर रही है.

पुलिस हर पहलू पर कर रही जांच
पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी ने मासूम की बेरहमी से हुई हत्या की घटना को लेकर जानकारी देते हुए बताया कि मासूम बच्ची का शव खेत में बरामद हुआ. मासूम बच्ची के पेट में चोट का निशान मिला है. घटनास्थल पर आकर फॉरेंसिक टीम जांच पड़ताल कर रही है. परिवार वालों का आरोप है कि रंजिशन बच्ची की हत्या की गई है. फिलहाल परिजनों के बयान दर्ज कर पुलिस द्वारा हर पहलू पर जांच कर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है.

तीन महीने में यह पहली घटना नहीं
पीलीभीत जिले में पिछले कुछ दिनों से मानवता को शर्मसार करने वाली घटनाएं लगातार सामने आ रही है.इससे पहले एक 34 वर्षीय लड़का सड़क पर तड़प-तड़प कर अपनी जान गंवा चूका है. उस समय भी  लोग वीडियो बनाते रहे. उसके बाद एक प्रेमी युगल सुसाइड करता है घरवाले लाश की पिटाई कर देते हैं. और तीसरी घटना शनिवार देखने को मिली जहां पर 10 वर्षीय मासूम अनाम तड़प तड़प कर अपनी जान दे देती है.

Tags: Pilibhit news, UP latest news

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *