लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि भारतीय डॉक्टर दुनिया में सबसे कुशल और योग्य हैं

प्रतिरूप फोटो

ANI

उन्होंने कहा कि भारतीय चिकित्सक अपनी कुशलता के साथ सेवाभाव और निष्ठा के कारण भी जाने जाते हैं। विश्व में चिकित्सा पर्यटन (मेडिकल टूरिज़म) के क्षेत्र में भारत के बढ़ते कद का उल्लेख करते हुए बिरला ने कहा कि भारतीय चिकित्सक एवं स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली दुनिया भर के लोगों को सस्ता और सुलभ उपचार मुहैया करा रही है।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने भारतीय चिकित्सकों के सेवाभाव व निष्ठा की सराहना करते हुए उन्हें दुनिया में सबसे कुशल व योग्य चिकित्सक बताया।
इसके साथ ही बिरला ने कहा कि भारतीय स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली दुनिया भर के लोगों को सस्ता और सुलभ उपचार मुहैया करा रही है।
बिरला यहां राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान अकादमी (नेशनल एकेडमी ऑफ मेडिकल साइंस) केराष्ट्रीय सम्मेलन एवं दीक्षांत समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

देश के युवाओं की बौद्धिक शक्ति एवं परिश्रम क्षमता के संदर्भ में लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय चिकित्सक दुनिया के सबसे कुशल और योग्य चिकित्सक हैं तथा विश्व के सबसे विख्यात चिकित्सा संस्थानों में उपचार कर रहे हैं तथा चिकित्सा क्षेत्र में नवोन्मेष कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि भारतीय चिकित्सक अपनी कुशलता के साथ सेवाभाव और निष्ठा के कारण भी जाने जाते हैं।
विश्व में चिकित्सा पर्यटन (मेडिकल टूरिज़म) के क्षेत्र में भारत के बढ़ते कद का उल्लेख करते हुए बिरला ने कहा कि भारतीय चिकित्सक एवं स्वास्थ्य देखभाल प्रणाली दुनिया भर के लोगों को सस्ता और सुलभ उपचार मुहैया करा रही है।

बिरला ने गर्व व्यक्त किया कि पारंपरिक चिकित्सा में अपनी समृद्ध विरासत को आगे बढ़ाते हुए भारत ने एलोपैथिक चिकित्सा और सर्जरी के क्षेत्र में बहुत प्रगति की है।
एक बयान के अनुसार, बिरला ने राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान अकादमी और अन्य प्रमुख संस्थानों से आग्रह किया कि वे भारत के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में उन्नत चिकित्सा सुविधा विकसित करने की दिशा में प्रभावी शोध करें।

उन्होंने जन प्रतिनिधियों और चिकित्सकों के बीच प्रभावी संवाद की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि एनएएमएस जैसी संस्थाएं देश के गांवों में प्रशिक्षित चिकित्सक और गुणवत्तापूर्ण चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध कराने की दिशा में विचार मंथन कर जन प्रतिनिधियों को जरूरी जानकारी दें।
अकादमी के लम्बे इतिहास का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि यह चिकित्सा के क्षेत्र में अनुसंधान व नवोन्मेष को बढ़ावा देने के लिए भारत का एक प्रमुख संस्थान है और अनुभवी तथा उच्च प्रशिक्षित डॉक्टर इसके सदस्य हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.