लिव-इन में रह रही महिला ने संपत्ति के लिए प्रेमी सहित छह लोगों को दिया जहर, एक की मौत

चूरू. राजस्थान के चूरू स्थित सदर थाना इलाके में हत्या का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां एक व्यक्ति की संपत्ति हड़पने और उसे वश में करने के लिए लिव इन में रह रही महिला ने पंडित के साथ मिलकर अपने प्रेमी सहित छह लोगों को खाने में जहर दे दिया. इस घटना में 33 साल का प्रेमी जयपुर में वेंटिलेटर पर है जबकि उसके साथ खाना खाने वाले 23 साल के युवक की मौत हो गई. 23 साल का युवक बाबूलाल प्रेमी मनोज बेनीवाल के नोहरे में काम करता था. 33 वर्षीय मनोज बेनीवाल पहले से शादीशुदा है जो अभी जयपुर में उपचाराधीन है.

मनोज बेनीवाल की पत्नी चांद रतन ने सदर थाने में लिव-इन में रह रही महिला सुमन, प्रेम व पंडित सहित 6 लोगों के खिलाफ संपत्ति हड़पने की नीयत से साजिश रचकर हत्या करने का सदर थाने में मुकदमा दर्ज करवाया है. मृतक बाबूलाल कछु राजकीय भरतिया अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया है जहां उसका पोस्टमार्टम किया जाएगा. 40 वर्षीय मनोज बेनीवाल की पत्नी पूनियां कॉलोनी निवासी चांदरतन ने सदर थाने में मुकदमा दर्ज करवाया कि उसकी शादी मनोज कुमार के साथ वर्ष 2005 मे हुई थी. कुछ दिनों पहले जब वह नोहरा पर नहीं होती थी तब उसके पति के पास एक औरत जिसका नाम सुमन, पत्नी सुनिल कुमार निवासी किलीपुरिया है वो आती थी. उसके बाद वह औरत नोहरा पर ही रहने लगी.

सुमन उसके पति की सम्पति हड़पना चाहती थी. सुमन इस नोहरे पर एक पंडित जी को भी बुलाया करती थी जो अक्सर नोहरा पर आया करती था. उसके पति ने बताया था कि उसने सुमन के कहने पर उसने पंडित जी को काफी पैसे उधार भी दे रखे थे. सुमन और पंडित ने उसके पति की सम्पति हड़पने और उसके उधार लिये हुए पैसे वापस नहीं देने पड़े इसके लिए वहां काम करने वाले करण, अर्जन और मनोज के फूफा प्रेम ने साजिश रचकर उसके पति मनोज कुमार व काम करने वालो मजूदरों को जान से मार कर सम्पति हड़पने का लिए पति मनोज कुमार व काम करने वाले मजदूरों के खाना में जहरीला पदार्थ मिला दिया.

नोहरा पर काम करने वाले लोकेश ने हमारे को बताया कि दिनांक 10 नवंबर को मनोज का फूफा प्रेम निवासी गोविन्द पुरा की ढाणी भी हमारे नोहरा में आया हुआ था. सुमन, पंडित और मनोज के फूफा प्रेम व करण व अर्जुन ने मनोज कुमार से पहले ही खाना खा लिया व मनोज कुमार व काम करने वाले बाबुलाल को बाद मे सुमन ने खाना मे कोई जहर या ऐसा कोई पदार्थ मिलाकर दिया, जिसके बाद से उनकी तबीयत खराब हो गई. इस घटना में काम करने वाले मजदूर बाबुलाल की मृत्यु भी हो गई है वहीं उसके पति मनोज कुमार की हालात गंभीर है.

11 नवंबर की शाम को पुलिस को सूचना मिलने के बाद मौके पर डीएसपी राजेंद्र बुरडक और सदर थाने की टीम जाब्ता पहुंची, जिन्होंने मामले की जानकारी जुटाई. पुलिस नोहरे में भी पहुंची जहां एफएसएल टीम की मदद से साक्ष्य जुटाए गए. नोहरे के एक साइड में पूजा-पाठ या कर्मकांड के लिए सामग्री भी जलाई हुई मिली है. पुलिस का मानना है कि सुमन और पंडित के द्वारा यहां कोई कर्मकांड भी किया जाना था.

Tags: Crime News, Live in Relationship, Rajasthan news

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.