लखनऊ में होटल में लगी आग: नासिक से शादी समारोह शामिल होने आए सात लोग; आग में झुलसने से एक की मौत, तीन गंभीर

लखनऊ30 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राजधानी लखनऊ के हुसैनगंज स्थित होटल रंगोली में आग लग गई। होटल में बनी रेस्टोरेंट बेस्ट बिरियानी में आग विकराल हो गई। होटल में ठहरे 7 लोगों में से एक की मौत इलाज के दौरान हो गई है। चारबाग स्थित बेस्ट बिरयानी रेस्टोरेंट में गुरुवार रात साढे 9 बजे करीब अचानक आग लग गई। तेज लपटों में घिरे दो युवक गंभीर रूप से झुलस गए। आग लगने की सूचना पर पहुंची पुलिस व दमकल कर्मियों ने एक गाड़ी की मदद से एक घंटे में आग पर काबू पा लिया। पुलिस के मुताबिक हादसे में झुलसे नासिक के प्रकाश सुधाकर को सिविल अस्पताल में मृत घोषित कर दिया। एक का इलाज चल रहा है। हादसा रसोई गैस सिलेंडर में रिसाव के कारण हुआ था। पुलिस व अग्निशमन की टीम मौके पर जांच कर रही है।

होटल में बिरयानी खाने आए लोग झुलस गएएडीसीपी मध्य राजेश श्रीवास्तव के मुताबिक चारबाग स्थित कबीर होटल है। उसी के बेसमेंट में बेस्ट बिरयानी के नाम से रेस्टोरेंट है। होटल में अचानक आग लग गई। आग लगते ही इलाके में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में आग पर काबू पाने के लिए लग गए। कबीर होटल में लगे उपकरणों से आग पर काबू पाने लगे। इसके साथ ही दमकल को सूचना दी गई। मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने एक गाड़ी की मदद से कुछ देर में आग पर काबू पा लिया। एडीसीपी के मुताबिक हादसे में रेस्टोरेंट में बिरयानी खाने आए लोग गंभीर रूप से झुलस गए, जिन्हें आनन-फानन में सिविल अस्पताल पहुंचाया गया। जहां नासिक निवासी प्रकाश सुधाकर दात्रे(30) को मृत घोषित कर दिया। वहीं साथी ही अनीस शेख उर्फ बादशाह 40 प्रतिशत झुलस गया। जिसका इलाज चल रहा है। एडीसीप ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जांच करने के बाद कार्रवाई की जाएगी। सीएफओ मंगेश कुमार के मुताबिक रेस्टोरेंट के ऊफर बने होटल के फायर उपकरण होने से आग पर समय रहते काबू पा लिया गया।

शादी में शामिल होने आए थे सभी

एडीसीपी के मुताबिक मृतक अपने सात साथियों के साथ प्रतापगढ़ शादी में शामिल होने के लिए आए थे। बृहस्पतिवार को शादी से लौटने के बाद चारबाग स्थित होटल में रुके थे। बाकी साथी रंगोली होटल में आराम कर रहे थे। यह दोनों लोग देर शाम को बिरयानी खाने के लिए निकले थे। मामले की जांच में सामने आया कि शुक्रवार ट्रेन से सभी को वापस लौटना था।

पड़ोसी रिसवा के लिए कर रहे थे शिकायत

पड़ोसियों ने बताया कि कई दिनों से गैस लीक होने की बदबू आ रही थी। ऐसे में पड़ोस में स्थित दुकानदार शिकायत करते थे, तो चुप करा देता था। कई लोगों ने हादसे की चेतवानी दी थी, लेकिन हर बार कुछ नहीं होने की बात कही। एडीसीपी के मुताबिक सभी के बयान दर्ज करने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

रेस्टोंरेंट की एंट्री पर बना रखा था किचन

स्थानीय लोगों के मुताबिक रेस्टोरेंट का किचन बाहर बना हुआ था। वहां आने वाले ग्राहक अंदर बैठ कर खाते थे। उन्होंने बताया कि गैस सिलेंडर में आग लगी और गेट पर फैल गई। इससे दोनों बाहर नहीं भाग सके। आग बढ़ते ही उसकी चपेट में आ गए। किसी तरह खुद का बचाना चाहा, लेकिन बाहर नहीं निकल सके।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *