रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव अस्पताल में भर्ती! मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया फेक न्यूज़

ANI

जानकारी के मुताबिक दावा किया गया है सर्गेई लावरोव को हृदय संबंधी परेशानी की शिकायत के बाद अस्पताल ले जाया गया है। हालांकि इसको लेकर न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स की ओर से भी एक खबर आई है। रूस के विदेश मंत्रालय के मुताबिक रॉयटर्स ने दावा किया कि यह बिल्कुल फर्जी खबर है।

इंडोनेशिया के बाली में जी-20 की एक महत्वपूर्ण बैठक चल रही है। इस बैठक में जी-20 के सदस्य देश शामिल हो रहे हैं। इसी कड़ी में रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव भी जी-20 की बैठक में शामिल होने के लिए बाली पहुंचे हैं। इन सबके बीच खबर यह आई है कि रूस के विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव को स्वास्थ्य संबंधी परेशानी की वजह से अस्पताल ले जाया गया है। इतना ही नहीं, दवा यह भी किया गया है कि सर्गेई लावरोव का अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक दावा किया गया है सर्गेई लावरोव को हृदय संबंधी परेशानी की शिकायत के बाद अस्पताल ले जाया गया है। हालांकि इसको लेकर न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स की ओर से भी एक खबर आई है। रूस के विदेश मंत्रालय के मुताबिक रॉयटर्स ने दावा किया कि यह बिल्कुल फर्जी खबर है। 

इसे भी पढ़ें: G20 की बैठक में दिखेगा भारत का दम, 45 घंटे में 20 कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगे मोदी, 10 वैश्विक नेताओं से भी होगी मुलाकात

रॉयटर्स ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि रूस के विदेश मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव को अस्पताल ले जाने की मीडिया रिपोर्ट “नकली” थी। रूसी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया ज़खारोवा ने कहा, “बेशक, यह बनावटीपन की पराकाष्ठा है।” आपको बता दें कि इंडोनेशिया ने करीब एक साल पहले जी20 की अध्यक्षता संभालते हुए ‘‘एक साथ उभरें, मजबूती से उभरें’’ का नारा दिया था, जो कि उस समय कोविड-19 वैश्विक महामारी के प्रकोप की मार झेल रही दुनिया के लिए एकदम उपयुक्त था। रूस-यूक्रेन संघर्ष और उसके वैश्विक अर्थव्यवस्था पर प्रभाव यहां चर्चा का विषय रहेगा। हालांकि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के बीच सोमवार को होने वाली एक बैठक पर भी सभी की नज़र है।

अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.