राजस्थान के इस शहर में सब्जियों के दाम आसमान पार, शिमला मिर्च ने तोड़ा रिकार्ड, जानें रेट

रिपोर्ट- हर्षिल सक्सेना

बारां. राजस्थान के बारां जिले में पिछले कुछ दिनों हुई बेमौसम बारिश ने सब्जियों की नई फसल को पूर्ण रूप से तहस-नहस कर दिया है. जिसके कारण त्योहारों के सीजन में सब्जियों के भाव चढ़ रहे हैं. वहीं उत्पादन में भी भारी नुकसान देखने को मिला है. उधर, त्योहारों के सीजन में जनता को दोहरी मार झेलनी पड़ रही है. पिछले कुछ सप्ताह बरसात से किसानों की फसलें गलने के साथ-साथ पूरे बाजार के त्योहारों की रौनक को भी छीन लिया है. पहले लहसुन के दाम ना आने से किसान पहले ही परेशान थे और बारिश ने सोयाबीन जैसी कई फसलों को भी नष्ट कर दिया और अब सब्जियों के दाम बढ़ने से जनता किसान, समाज के हर वर्ग को महंगाई झेलनी पड़ रही है.

सब्जी व्यापारी बंटी ने बताया कि बारिश होने से खेतों में पानी भरने से गाड़ियां माल भरने के लिए खेतों तक नहीं पहुंच पा रही है, जिससे मेहनत, मजदूरी बढ़ने से साथ ही बारिश में ट्रांसपोर्टेशन ठप होने से सब्जियों के दाम आसमान को छू गए. बारिश से पहले शिमला मिर्च पहले ₹80 किलो के भाव में मिल जाया करती थी. वहीं अब ₹120 किलो के भाव में मिल रही है. उधर, आलू पहले 20 रु किलो में मिला करते थे, जबकि अब 30 रु किलो के भाव में मिल रहे है. सब्जियों के दाम बढ़ने से आम आदमी की अर्थव्यवस्था पर प्रभाव पड़ने लगा है.

गृहणी सुनीता नागर ने बताया कि पहले ही दूध, पेट्रोल-डीजल, गैस सिलेंडर से आम आदमी की अर्थव्यवस्था पहले ही डगमगा रही है. ऊपर से सब्जियों के दाम बढ़ने से दोहरी मार झेलनी पड़ रही है. घर में दो समय सब्जी बनती है ऊपर से सब्जियों के दाम बढ़ने से 1 समय ही सब्जी बनाई जा रही है.

दिवाली पर गोभी और शिमला मिर्च का विशेष महत्व
दिवाली के सीजन में गोभी, आलू और शिमला मिर्च का महत्व हर घर की जरूरत होती है. इन सब्जियों के बिना त्योहारों को भी अधूरा माना जाता है. त्योहार हो या शादी हो सर्दी के सीजन में आलू, गोभी और शिमला मिर्च के बिना हर त्योहार सीजन फीका दिखाई देता है. दिवाली के दिन विशेष रूप से आलू गोभी शिमला मिर्च के पकौड़े सहित कई पकवान हर घर में बनाए जाते है.

महंगाई की मार झेल रहे समाज का हर वर्ग इस बार हो सकता है अपनी जरूरतों के लिए, शौक के लिए इन सामानों से वंचित रह जाए.

Tags: Baran news, Diwali Celebration, Rajasthan news, Vegetable market, Vegetable prices

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.