“युवाओं ने साबित किया उन्हें विकास और बीजेपी पसंद”, गुजरात में प्रचंड जीत के बाद बोले PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि गुजरात में नरेंद्र-भूपेंद्र ने रिकॉर्ड तोड़ने का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है. मोदी ने कहा कि चुनावों के दौरान मैंने गुजरात की जनता से कहा था, इस बार नरेंद्र का रिकॉर्ड टूटना चाहिए. मैंने वादा किया था कि भूपेंद्र नरेंद्र का रिकॉर्ड तोड़े इसके लिए मैं जी जान से कोशिश करूंगा. जनता ने गुजरात के इतिहास का सबसे प्रचंड जनादेश भाजपा को देकर नया इतिहास रच दिया है.भाजपा को मिला जनसमर्थन नए भारत की आकांक्षाओं का प्रतिबिम्ब है. भाजपा को मिला जनसमर्थन भारत के युवाओं की ‘युवा सोच’ का प्रकटीकरण है. भाजपा को मिला जनसमर्थन गरीब, शोषित, वंचित, आदिवासियों के सशक्तिकरण के लिए मिला समर्थन है.

पीएम मोदी के संबोधन की प्रमुख बातें:

गुजरात, हिमाचल और दिल्ली की जनता का आभार

पीएम मोदी ने कहा, ‘ये जनादेश अभिभूत करने वाला है. जहां भारतीय जनता पार्टी प्रत्यक्ष नहीं जीती, वहां भाजपा का वोट शेयर आपके स्नेह का साक्षी है. मैं गुजरात हिमाचल और दिल्ली की जनता का आभार जताता हूं. आपका प्यार उपचुनावों में भी दिखा. यूपी के रामपुर में भाजपा जीती है. बिहार के चुनावों में भाजपा का प्रदर्शन आने वाले दिनों का प्रदर्शन कर रहा है. मैं चुनाव आयोग का भी आभार व्यक्त करता हूं.’ 

 

हिमाचल में 1 फीसदी अंतर से हारे, मगर 100 फीसदा काम का वादा

पीएम मोदी ने कहा, ‘BJP भले ही हिमाचल में चुनाव न जीत पाई हो, लेकिन अंतर बहुत कम रहा है. 1 फीसदी का अंतर है. मैं आपसे वादा करता हूं कि भले ही बीजेपी हिमाचल में एक फीसदी अंतर से हार गई हो, लेकिन केंद्र सरकार की प्रतिबद्धता 100 फीसदी ही रहेगी. हम वहां जनता के मुद्दे उठाते रहेंगे और काम करते रहेंगे.’

नड्डा की तारीफों के बांधें पुल

पीएम ने कहा कि इस जीत में जेपी नड्डा का भी हाथ है. उनके नेतृत्व में भाजपा के कार्यकर्ताओं ने जो परिश्रम किया है, उसकी खूशबू आज हम चारों तरफ अनुभव कर रहे हैं. बीजेपी ने तो रिकॉर्ड तोड़ने में भी रिकॉर्ड बना दिया है. उसने गुजरात बनने के बाद से सारे के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. गुजरात का जनादेश बीजेपी को देकर गुजरात के लोगों ने बड़ा इतिहास बना दिया है. गुजरात के इतिहास का सबसे प्रचंड जनादेश भाजपा को देकर प्रदेश के लोगों ने नया इतिहास बना दिया है. जाति, वर्ग, समुदाय और हर तरह के विभाजन से ऊपर उठकर भाजपा को वोट दिया है.

जनता का भरोसा सिर्फ बीजेपी पर

पीएम ने कहा कि गुजरात के नतीजों ने सिद्ध कर दिया है कि देश के सामने जब कोई चुनौती होती है तो जनता का भरोसा भाजपा पर होता है. देश पर कोई संकट आता है तो जनता का भरोसा भाजपा पर होता है. देश बड़े लक्ष्य तय करता है तब जनता का भरोसा भाजपा पर होता है. जब देश की आकांक्षाएं चरम पर होती हैं, तब भी उसकी पूर्ति के लिए देशवासियों का भरोसा भाजपा पर ही होता है. उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के बाद यूपी समेत तमाम राज्यों में चुनाव हुए तब भी जनता ने भाजपा को चुना. आज जब भारत विकसित भारत की ओर बढ़ रहा है, तब जनता का भरोसा भाजपा पर है.

देश समृद्ध होगा, तो सबकी समृद्धि तय

पीएम मोदी ने कहा कि देश समृद्ध होगा, तो सबकी समृद्धि तय है. युवा तभी वोट देते हैं जब उन्हें भरोसा होता है और सरकार का काम प्रत्यक्ष नजर आता है. आज युवाओं ने जब भाजपा को भारी संख्या में वोट दिया है तो इसके पीछे का संदेश बहुत स्पष्ट है कि युवाओं ने हमारे काम को जांचा, परखा और उस पर भरोसा किया है.

गरीबी कम हो रही है

पीएम ने कहा कि बड़े-बड़े एक्सपर्ट कह रहे हैं कि भारत में गरीबी कम हो रही है. देश ने पिछले आठ वर्षों में गरीबों तक मूलभूत सुविधाएं पहुंचाने के साथ ही, संसाधनों का विकास भी किया है.

पांच-पांच पीढ़ियों की तपस्या

उन्होंने कहा कि हम जहां पहुंचे हैं, ऐसे ही नहीं पहुंचे. पांच-पांच पीढ़ियां जनसंघ के जमाने से तपस्या करते हुए परिवार के परिवार खपते रहे. तब जाकर हम यहां पहुंचे हैं. भाजपा के लिए लाखों समर्पित कार्यकर्ताओं ने अपना जीवन खपा दिया है. व्यक्तिगत सुख, आकांक्षाएं, खुशी को तिलांजलि देकर भाजपा का कार्यकर्ता समाज और देश को सशक्त करने में जुटा रहता है. भाजपा अपने कार्यकर्ताओं की अथाह संगठन शक्ति पर भरोसा करके अपनी रणनीति बनाती है, और सफल होती है. उतार चढ़ाव हमारे राजनीतिक जीवन में आए हैं, लेकिन हमने आदर्शों और मूल्यों पर अडिग रहकर दिखाया है.

बीजेपी विचार और व्यवस्था दोनों में मजबूत

पीएम मोदी ने कहा कि हम विचार पर भी बल देते हैं और व्यवस्था को भी सबल बनाते रहते हैं. भाजपा अपने कार्यकर्ताओं की अथाह संगठन शक्ति पर भरोसा करके ही अपनी रणनीति बनाती है और सफल भी होती है.

चुनावी हथकंडों से किसी का भला नहीं होगा

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘हम सिर्फ घोषणा करने के लिए घोषणा नहीं करते. हमारी हर घोषणा के पीछे एक रोडमैप होता है. देश आज शॉर्टकट नहीं चाहता. देश का मतदाता इतना जागरूक है, क्या उसके हित में है क्या उसके अहित में है, वह सब जानता है. वह शॉर्ट कट की राजनीति का नुकसान जानता है. देश समर्द्ध होगा तो सबकी समर्द्धि तय है. हमारे पूर्वजों के पास अनुभव का अधात ज्ञान था. हमारे पूर्वजों ने आमदनी अठन्नी खर्चा रुपया वाली कहावत दी है.’ अगर यह वाला हिसाब होगा तो इसका क्या हाल होगा, यह हम अपने अड़ोस-पड़ोस में देख रह हैं. देश के सभी राजनीतिक दलों को सोचना होगा कि चुनावी हथकंडों से किसी का भला नहीं होगा.

हमारा भविष्य फॉल्ट लाइन को गिराकर ही उज्ज्वल

समाज के बीच खाई खोदने वालों को जनता देख भी रही है और समझ भी रही है. हमारा भविष्य फॉल्ट लाइन को गिराकर ही उज्ज्वल होगा. लड़ने के लिए सैकड़ो वजह हो सकती हैं, लेकिन जुड़ने के लिए एक वजह काफी है, वो है हमारा भारत. जीने के लिए और मरने के लिए इससे बड़ी वजह और कोई नहीं हो सकती है. इसलिए हमें इंडिया फर्स्ट की भावना के साथ आगे बढ़ना है.


आखिर में पीएम मोदी ने कहा कि हम आलोचनाओं से सीखते रहना है और अपनी शक्ति को बढ़ाते रहना है. आप मान के चलिए मुश्किलें आएंगी. लेकिन हमें अपनी सहनशक्ति को बढ़ाना है. हमें समर्पण का रास्ता, सद्भाव का रास्ता प्रशस्त करते जाना है. विकसित भारत हम अपने नौजवानों के हाथ में देकर जाएंगे. भारत माता की जयकारे के साथ पीएम मोदी ने अपना संबोधन खत्म किया.

जेपी नड्डा ने क्या कहा?

पार्टी अध्यक्ष नड्‌डा ने अपने संबोधन में गुजरात, हिमाचल और दिल्ली चुनाव में काम करने वाले कार्यकर्ताओं का आभार जताते हुए कहा- मोदी के नेतृत्व में हमें गुजरात में रिकार्ड जीत मिली है. यह विकासवाद की जीत है. गरीब के घर दो वक्त की रोटी की व्यवस्था, बिजली, शौचालय, सिलेंडर की व्यवस्था करने की नीति ने हमें जीत दिलाई.

नड्डा ने केजरीवाल का नाम लिए बिना AAP पर हमला बोला. नड्‌डा ने कहा कि एक नई पार्टी गुजरात का अपमान करने आई. वह एक पर्चा लेकर आए और भविष्यवाणी करने लगे कि उनकी पार्टी की सरकार बनेगी. जनता को गुमराह करने वाले लापरवाह नेताओं को गुजरात की जनता से माफी मांगनी चाहिए. आजाद भारत में एक भी नेता नहीं आया जो बोर्ड लेकर चलता हो कि मैं कट्‌टर ईमानदार हूं. ये कट्‌टर बेईमान हैं.


नड्डा ने कहा-‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास’…इस मूलमंत्र को लेकर जिस अथक प्रयास के साथ प्रधानमंत्री मोदी जी ने गुजरात और देश की जनता की सेवा की है उसका परिणाम हमें इस प्रचंड जीत में दिखाई देता है.

इसके साथ ही नड्डा ने हिमाचल प्रदेश के लोगों का भी शुक्रिया अदा किया. उन्होंने कहा, ‘गुजरात की जनता, गुजरात के कार्यकर्ता व तमाम कार्यकर्ता जो हिमाचल प्रदेश और दिल्ली में कार्यरत रहे, उन्हें मैं तहे दिल से बहुत-बहुत बधाई देता हूं और अभिनंदन करता हूं.’


बता दें कि गुजरात की 182 विधानसभा सीटों में से भाजपा ने 156 सीटें जीती हैं. उसे 2017 के मुकाबले 58 सीटों का फायदा हुआ है. वहीं, कांग्रेस को सबसे ज्यादा 60 सीटों का नुकसान हुआ है. पार्टी ने पिछली बार 77 सीटें जीती थीं. इस बार उसे 17 सीटें ही मिली हैं. निर्दलीय और अन्य कैंडिडेट्स ने गुजरात में 4 सीटें जीती हैं। दिलचस्प बात यह है चुनाव प्रचार के दौरान PM मोदी ने कहा था- नरेंद्र का रिकॉर्ड भूपेंद्र तोड़ेंगे. चुनाव नतीजों में बिल्कुल यही नजर आ रहा है.

ये भी पढ़ें:-

Short News: ‘हमारा भविष्य फॉल्ट लाइन को गिराकर ही उज्ज्वल’, PM मोदी के भाषण की 5 बातें

गुजरात में कांग्रेस को दोहरा झटका : न गद्दी मिली, न मिलेगा नेता प्रतिपक्ष का पद!

गुजरात विधानसभा चुनाव परिणाम : आगे चल रहे उम्मीदवारों और विजेताओं की पूरी लिस्ट



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *