मुलायम को श्रद्धांजलि देने अकेले महराजगंज से सैफई निकल पड़ा 10 वर्षीय बालक, राह में भटका

समाजवादी पार्टी के संस्थापक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मुलायम सिंह यादव के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए 10 वर्षीय बालक महराजगंज से अकेले सैफई निकल पड़ा और राह में भटक गया।

समाजवादी पार्टी के संस्थापक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मुलायम सिंह यादव के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए 10 वर्षीय बालक महराजगंज से अकेले सैफई निकल पड़ा और राह में भटक गया।
शुक्रवार को मुलायम समर्थक नाबालिग का वीडियो सोशल मीडिया पर सामने आया, जिसमें नेताजी के प्रति उसकी भावना झलक रही है।
समाजवादी पार्टी के संस्थापक की मौत से दुखी नाबालिग उनके अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए अकेला घर से निकला था।

जानकारी के अनुसार, श्यामलाल यादव नामक नाबालिग समर्थक मंगलवार सुबह महराजगंज से गोरखपुर गया और सैफई के लिए ट्रेन पकड़ी, लेकिन भटक गया और मुलायम सिंह यादव के अंतिम संस्कार के लिए सैफई नहीं पहुंच सका और कानपुर में रेलवे पुलिस को मिल गया।
कानपुर में जीआरपी (राजकीय रेलवे पुलिस) ने बच्चे को रोका। जीआरपी और 10 साल के बच्चे के बीच बातचीत का एक वीडियो शुक्रवार को सोशल मीडिया पर सामने आया।

वीडियो में नाबालिग को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वह महाराजगंज के लक्ष्मीपुर स्टेशन का रहने वाला है और नेताजी के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए अकेले ट्रेन से गोरखपुर पहुंचा लेकिन वहां से किसी ने उसे गलत रास्ता बता दिया और वह भटक गया।
खुद को सपा का ‘स्टार प्रचारक’ बताते हुए श्यामलाल को नेताजी के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाने पर दुख प्रकट करते सुना जा सकता है।

श्यामलाल के पिता शिव कुमार यादव ने पीटीआई- को बताया कि उन्हें बुधवार रात जीआरपी कानपुर से फोन आया।
शिव कुमार ने कहा, ‘‘जीआरपी ने मुझे बताया कि मेरा बेटा उनके पास सुरक्षित है और मुझे उसे वापस ले जाने के लिए कहा।
शिवकुमार कानपुर गए और शुक्रवार सुबह बेटे को लेकर वापस लौटे।
उल्लेखनीय है कि मुलायम सिंह यादव का 10 अक्टूबर को गुरुग्राम (हरियाणा) के मेदांता अस्पताल में निधन हो गया था। वह 82 वर्ष के थे। 11 अक्टूबर को इटावा जिले में स्थित उनके पैतृक गांव सैफई में मुलायम सिंह का अंतिम संस्कार किया गया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.