महराजगंज में अंतर्जनपदीय वाहन चोर गिरोह का खुलासा, 3 गिरफ्तार: महंगे शौक पूरे करने के लिए करते थे अपराध, बिहार और नेपाल में बेचते थे

महराजगंज15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

महाराजगंज में पुलिस ने वाहन चोरों के अंतर्जनपदीय गिरोह का खुलासा किया है। खुलासे में पता चला कि गिरोह का एक सदस्य किन्नर के प्यार में बाइक लिफ्टर बना तो दूसरे ने महंगे शौक और अय्याशी के चक्कर में बाइक चोरी करने लगा। इसके अलावा तीसरा आरोपी पूर्व में एनडीपीएस एक्ट के तहत जेल जा चुका है। चोरी की आठ मोटरसाइकिल के साथ तीनों वाहन चोरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

घटना का मास्टर माइंड अमन मिश्रा घुघली थाना के बरवा चमैंनिया गांव का रहने वाला है। जबकि दूसरा बाइक चोर शिवा दुबे घूघली थानाके बरगदवा माधोपुर का ही निवासी है। जबकि तीसरा जितेंद्र गिरी कोतवाली थाना के लखिमा थारुवा का निवासी है। ये बदमाश भीड़भाड़ वाले इलाकों में लोगों की बाइक टारगेट कर चोरी की घटनाओं को अंजाम देते थे और बाइक को बिहार और नेपाल में बेच दिया करते थे।

अपराधियों के कब्जे से बरामद चोरी की बाइक।

अपराधियों के कब्जे से बरामद चोरी की बाइक।

महंगे शौक पूरा करने के लिए करते थे चोरी
घटना के मास्टर माइंड अमन मिश्रा ने बिहार बार्डर स्थित सेवरही के एक किन्नर के प्यार में पागल होकर चोरी की राह पकड़ी। जांच में यह भी पता चला है कि तीनों अभियुक्त रईस घर की बिगड़ैल औलाद हैं। पकड़े गए तीन अभियुक्तों में एक जितेंद्र गिरी के विरुद्ध पूर्व में एनडीपीएस एक्ट का मामला दर्ज है। अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि महंगे शौक पूरा करने के लिए अच्छे घर के लड़के बाइक चोरी की घटना में संलिप्त थे। इनके कब्जे से कुल 8 मोटरसाइकिल बरामद किये हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *