मध्य प्रदेश : कई घंटों की मशक्कत के बाद बैतूल जिले में बोरवेल में फंसे बच्‍चे को निकाला गया, हुई मौत

बचाव अभियान 6 दिसंबर को शाम 6 बजे से शुरू किया गया था.

बैतूल:

मध्य प्रदेश के बैतूल जिले के मंडावी गांव में छह दिसंबर को 55 फुट गहरे बोरवेल में गिरे आठ वर्षीय बच्चे की बचाव अभियान के बाद बाहर निकाले जाने के बाद मौत हो गई. बैतूल जिला प्रशासन ने शनिवार को यह जानकारी दी. 6 दिसंबर की शाम करीब 5 बजे 8 वर्षीय तन्मय साहू खेत में खेलते समय बोरवेल में गिर गया और अगले एक घंटे में रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू हो गया.

यह भी पढ़ें

राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ), होमगार्ड और स्थानीय पुलिस कर्मी पिछले चार दिनों से काम पर थे. तन्मय के शव को एंबुलेंस से बैतूल जिला अस्पताल ले जाया जा रहा है. इससे पहले लड़के के परिवार ने सवाल उठाए और तत्काल एक्शन की मांग की. तन्मय की मां ज्योति साहू ने कहा, “मेरा बच्चा कुछ भी हो, मुझे दे दो. किसी नेता या अधिकारी का बच्चा होता तो क्या इतना समय लगता?”

उन्होंने कहा, “इतना समय बीत गया है, और वे कुछ नहीं कह रहे हैं. मुझे देखने भी नहीं दे रहे हैं. उसके पिता सुनील साहू ने कहा है, “मेरी 12 साल की बेटी ने उसे बोरवेल में गिरते हुए देखा और घटना की जानकारी दी. हम तुरंत मौके पर पहुंचे. उसकी सांस चल रही थी और हमने पूछताछ करते हुए उसकी आवाज सुनी. बचाव अभियान 6 दिसंबर को शाम 6 बजे से शुरू किया गया था.”

तन्मय की शिक्षिका गीता मानकर ने कहा, ‘तन्मय तीसरी कक्षा का छात्र है. उसके स्कूल के शिक्षकों सहित उसके स्कूल के बच्चों ने उसकी सुरक्षा के लिए गायत्री मंत्र का जाप किया. शिक्षकों और छात्रों ने भगवान से प्रार्थना की है कि तन्मय बोरवेल से सुरक्षित बाहर आ जाए.’ तन्मय एक बुद्धिमान छात्र है. उसकी सुरक्षा हम सभी की जीत होगी.”

ये भी पढ़ें : उत्तर प्रदेश के बदायूं में पुलिस से भिड़ी भीड़,पथराव किया गया

ये भी पढ़ें : दिल्ली : नाले में मिली सूटकेस में बंद महिला की लाश, जांच में जुटी पुलिस

Featured Video Of The Day

सिटी सेंटर: विधायकों की बैठक में नहीं बनी सहमति, अब कांग्रेस आलाकमान तय करेगा CM का नाम



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *