बिहार: मां ने की 15 वर्षीय बेटे की हत्या, घर में गड्ढा खोदा फिर लाश भी दफनाया

हाइलाइट्स

मां द्वारा बेटे की हत्या करने का ये मामला औरंगाबाद जिला से जुड़ा है
इस केस में पुलिस ने आरोपी मां को गिरफ्तार कर लिया है
हत्या के कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हो सका है

औरंगाबाद. कहते हैं कि पुत्र भले ही कुपुत्र हो जाये मगर किसी भी परिस्थिति में माता कभी कुमाता नहीं हो सकती है. मगर बिहार में एक मां ने इस कहावत को झूठा साबित कर दिया है. घटना औरंगाबाद जिले की है जहां के मदनपुर थाना क्षेत्र के शिवगंज की एक महिला कंचन देवी ने न सिर्फ अपने 15 वर्षीय बेटे की हत्या कर दी बल्कि लाश को अपने घर मे ही गड्ढा खोदकर उसे दफना भी दिया. इस बात का खुलासा तब हुआ जब शव से दुर्गंध आने लगा.

शव से दुर्गंध मिलने की सूचना ग्रामीणों ने स्थानीय पुलिस को दी जिसके बाद बंद पड़े उस घर को तत्काल सील कर दिया गया और ग्रामीणों या फिर किसी को उस घर की तरफ जाने से रोक दिया गया. फिर पटना से एफएसएल की टीम के आने का इंतजार किया जाने लगा. बाद में जब एफएसएल की टीम यहां पहुंची तब जाकर घर में गड्ढा को खोदकर उसमें से किशोर की लाश निकाली गई. इस मामले में जब आरोपी महिला से पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तब उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया.

गौरतलब है कि 3 महीने पहले इस महिला की 17 वर्षीय बेटी की भी संदेहास्पद परिस्थितियों में मौत हो गयी थी. इस मामले में औरंगाबाद की एसडीपीओ स्वीटी सेहरावत ने बताया कि ऐसे में पुलिस अब इस बात का भी पता लगा रही है कि अपनी बेटी की हत्या भी कहीं इसी महिला ने तो नहीं कर दी है. हत्या की इस घटना के बाद से गांव के लोग भी सकते में हैं.

Tags: Aurangabad, Bihar News, Crime In Bihar

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *