बहरीन में सरकारी वेबसाइट हैक होने के बीच संसदीय चुनाव के लिए वोट डाले गए

प्रतिरूप फोटो

Google Creative Commons

गृह मंत्रालय ने कहा, ‘चुनाव में बाधा डालने और नकारात्मक संदेश फैलाने के लिए वेबसाइट को निशाना बनाया जा रहा है। हालांकि, यह नागरिकों को मतदान केंद्रों तक जाने से नहीं रोक सकेगा।’

बहरीन में सरकारी वेबसाइट हैक होने के कुछ घंटे बाद देश में संसदीय और स्थानीय चुनावों के लिए वोट डाले गये।
हालांकि, गृह मंत्रालय ने यह नहीं बताया है कि हैकर ने किस वेबसाइट को निशाना बनाया, लेकिन देश की सरकारी बहरीन न्यूज एजेंसी की वेबसाइट और देश की संसद की वेबसाइट पर नहीं पहुंचा जा सका।
बाद में, बहरीन के चुनाव आयोग की वेबसाइट पर विदेशों में भी पहुंच स्थापित नहीं हो सका, हालांकि समाचार एजेंसी की वेबसाइट पर सेवाएं सामान्य हो गईं।

गृह मंत्रालय ने कहा, ‘‘चुनाव में बाधा डालने और नकारात्मक संदेश फैलाने के लिए वेबसाइट को निशाना बनाया जा रहा है। हालांकि, यह नागरिकों को मतदान केंद्रों तक जाने से नहीं रोक सकेगा।’’
इंटरनेट उपयोगकर्ताओं द्वारा ली गई ‘स्क्रीनशॉट’ (मोबाइल फोन के जरिये ली गई तस्वीरों) में यह देखा गया कि ‘अल-तूफान’ नाम के अकाउंट से वेबसाइट को हैक किया गया।
इस बीच, सरकारी समाचार एजेंसी ने अपनी खबर में कहा कि देश में 55 मतदान केंद्रों पर मतदान सुगमता से हो रहा है। चुनाव में बहरीन की संसद के निचले सदन काउंसिल ऑफ रिप्रेजेंटेटिव के 40 सदस्यों को चुनने के लिए वोट डाले जा रहे हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.