फिर बोले राजनाथ, भारत की ओर बुरी नजर डालने वालों को अब दिया जाता है मुंहतोड़ जवाब

राजनाथ सिंह ने 2016 के सर्जिकल स्ट्राइक और 2019 के बालाकोट हवाई हमले का जिक्र करते हुए कहा कि भारतीय सैनिकों ने इसे बार-बार साबित किया है। उन्होंने पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी गतिरोध के दौरान सैनिकों द्वारा दिखाई गई बहादुरी का भी जिक्र किया।

चंडीगढ़। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)-नीत सरकार का मुख्य केंद्र बिंदु राष्ट्रीय हितों की रक्षा करना है और भारत पर बुरी नजर डालने वाले को अब मुंहतोड़ जवाब दिया जाता है। सिंह ने कहा, ‘‘भारत अब कमजोर नहीं है। हम शांति में विश्वास करते हैं। अगर कोई हमें नुकसान पहुंचाने की कोशिश करता है, तो अब मुंहतोड़ जवाब दिया जाता है।’’ सिंह ने 2016 के सर्जिकल स्ट्राइक और 2019 के बालाकोट हवाई हमले का जिक्र करते हुए कहा कि भारतीय सैनिकों ने इसे बार-बार साबित किया है। उन्होंने पूर्वी लद्दाख में गलवान घाटी गतिरोध के दौरान सैनिकों द्वारा दिखाई गई बहादुरी का भी जिक्र किया। 

इसे भी पढ़ें: पृथ्वीराज चौहान की प्रतिमा का राजनाथ ने किया अनावरण, बोले- हमें ग़ुलामी की मानसिकता से बाहर निकलने की आवश्यकता है

सिंह हरियाणा के झज्जर में महान योद्धा पृथ्वीराज चौहान की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने यह भी कहा कि औपनिवेशिक मानसिकता से छुटकारा पाने के लिए नरेंद्र मोदी नीत सरकार ने कई पहल की हैं, जिसमें मराठा योद्धा छत्रपति शिवाजी से प्रेरित एक नया भारतीय नौसेना ध्वज, लगभग 1,500 अप्रचलित ब्रिटिश-काल के कानूनों को समाप्त करना, राजपथ का नाम बदलकर कर्तव्य पथ करना और इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की एक भव्य प्रतिमा की स्थापना शामिल हैं। सिंह ने कहा कि अपनी प्रांसगिकता खो चुके ब्रिटिश शासन काल के 1,500 से अधिक पुराने कानूनों को खत्म कर दिया गया है। उन्होंने कहा, ‘‘ऐसे कई कानून हैं, जिनके लिए हम योजना बना रहे हैं। हम इन्हें भी खत्म कर देंगे।’’ कांग्रेस का नाम लिये बिना सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अनावरण किए गए ‘जी-20 के लोगो पर कमल के चित्र को लेकर अनावश्यक विवाद पैदा करने के लिए उसपर (कांग्रेस) हमला बोला। 

इसे भी पढ़ें: NDC दीक्षांत समारोह में पहुंचे राजनाथ सिंह, कहा- देश को सुरक्षा खतरों के नए आयामों से निपटने के लिए तैयार रहने की जरूरत

कांग्रेस ने भाजपा पर अपने चुनाव चिह्न को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है, जबकि सत्ताधारी दल ने दावा किया कि विपक्षी दल भारत के राष्ट्रीय फूल का अपमान कर रहा है। उन्होंने हरियाणा और झज्जर क्षेत्र को वीरों की भूमि बताते हुए कहा कि देश की सीमाओं की रक्षा के लिए कई लोगों ने अपने प्राणों की आहुति दी है। उन्होंने कहा कि गलवान घाटी में जब गतिरोध था, तब हमारे बलों ने अपने शौर्य और साहस का परिचय दिया था। पाकिस्तान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘..और आपने देखा है कि जब से भारत को आजादी मिली है, पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में अशांति पैदा करने और अस्थिरता पैदा करने के लिए आतंकवादियों को भेज रहा है।’’ उन्होंने उरी और पुलवामा आतंकी हमलों के बाद हुए सर्जिकल स्ट्राइक और हवाई हमले का जिक्र करते हुए कहा कि (दुस्साहस करने वालों को) मुंहतोड़ जवाब दिया गया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.