प्रेमी ने पार्टनर के किए 35 टुकड़े, फिर 18 दिन तक दिल्ली में लगाता रहा ठिकाने

नई दिल्ली: मुंबई की 26 साल की लड़की की मुलाकात एक लड़के से होती है। दोनों के बीच बातचीत के बाद कुछ दिनों में ही प्यार हो जाता है। इसके बाद लड़की मुंबई से लड़के के साथ दिल्ली आती है। यहां दोनों लिव इन में रहते हैं, लेकिन कुछ दिनों बाद ही लिव इन रिलेशन का खौफनाक अंत भी हो जाता है।

आरोप है कि प्रेमी ने अपनी लिव इन पार्टनर की गला घोंटकर हत्या कर दी और फिर उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए। शव के टुकड़ों को ठिकाने लगाने के लिए आरोपी प्रेमी रोज रात को घर से निकलता था और एक-एक कर शव के टुकड़ों को ठिकाने भी लगा रहा था। इसी बीच लड़की की पिता के शिकायत के बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया और जांच पड़ताल के दौरान आरोपी को दबोच लिया।

वारदात को लेकर दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा कि एक रूह कंपाने वाले मामले में दिल्ली में एक लड़की को उसके बॉयफ्रेंड ने जान से मार दिया और उसके 35 टुकड़े कर फ्रिज में रखे। फिर उसके शव के टुकड़ों को शहर के अलग अलग इलाकों में फेंका। समाज में कैसे कैसे दरिंदे पल रहे हैं? पुलिस ने आरोपी को गिरफ़्तार किया है, दरिंदे को कड़ी सजा हो।

बॉलीवुड फिल्म की तरह है पूरी कहानी

मामला छह महीने पुराना बताया जा रहा है। पुलिस के मुताबिक, आरोपी आफताब अमीन पूनावाला ने 18 मई को अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की गला घोंटकर हत्या कर दी। फिर उसने उसके शरीर को 35 टुकड़ों में काट दिया। शव के टुकड़ों को उसने फ्रिज में रखा और अगले 18 दिनों तक वह रोज रात करीब दो बजे घर से निकलता था और दिल्ली के आसपास के विभिन्न स्थानों पर टुकड़ों को ठिकाने लगाता रहा।

कॉल सेंटर में मुलाकात के बाद शुरू हुई प्रेम कहानी

जानकारी के मुताबिक, पीड़िता श्रद्धा मुंबई के एक कॉल सेंटर में काम करती थी, जहां उसकी मुलाकात आरोपी आफताब अमीन पूनावाला से हुई थी। मुलाकात के बाद दोनों ने डेटिंग शुरू की और बाद में लिव इन में रहने लगे। श्रद्धा के परिवार को उनका रिश्ता मंजूर नहीं था, इसलिए वे मुंबई से दिल्ली आ गए और यहां महरौली के एक फ्लैट में एक साथ रहने लगे।

पिता ने बेटी की खोजबीन शुरू की तो वारदात का हुआ खुलासा

घटना का पता तब चला जब पीड़िता के पिता अपनी बेटी की खोजबीन में जुटे। कहा जा रहा है कि श्रद्धा के पिता जब उसे फोन करते थे तो उसका फोन रिसीव नहीं होता था। इसके बाद वे अपनी बेटी को देखने के लिए दिल्ली आए। किसी तरह जानकारी जुटाकर वे बेटी के फ्लैट पर पहुंचे। यहां उन्होंने ताला लगा देखा। इसके बाद वे महरौली पुलिस के पास पहुंचे और 8 नवंबर को बेटी की अपहरण का शिकायत दर्ज कराया।

पुलिस ने शिकायत के आधार पर शनिवार को आरोपी आफताब पूनावाला को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान पहले तो आरोपी पुलिस को गुमराह करता रहा, लेकिन जब उससे सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने पूरे मामले का खुलासा कर दिया। उसने हत्या से लेकर शव के टुकड़ों को ठिकाने लगाने की पूरी कहानी पुलिस को बयां कर दी। उसने पुलिस को बताया कि श्रद्धा शादी के लिए उस पर दबाव डालती थी, इसलिए उसने उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी। फिलहाल, पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर श्रद्धा के शव के टुकड़ों की तलाश शुरू कर दी है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.