पीएम मोदी ने कहा कि तेलंगाना में हर जगह ‘कमल’ खिलेगा

उन्होंने कहा कि राज्य में हर जगह कमल (भाजपा का चुनाव चिह्न) खिलेगा। प्रधानमंत्री का यह बयान वर्ष 2023 में राज्य में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले आया है, जहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) चंद्रशेखर राव नीत तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) की सत्ता को चुनौती देना चाहती है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तेलंगाना में सत्तारूढ़ टीआरएस पर निशाना साधते हुए शनिवार को कहा कि जिस पार्टी पर लोगों को सबसे अधिक भरोसा है, उसने उनके साथ कथित तौर पर विश्वासघात किया है। उन्होंने कहा कि राज्य में हर जगह कमल (भाजपा का चुनाव चिह्न) खिलेगा।
प्रधानमंत्री का यह बयान वर्ष 2023 में राज्य में होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले आया है, जहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) चंद्रशेखर राव नीत तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) की सत्ता को चुनौती देना चाहती है।

राज्य के दौरे पर आने के तुरंत बाद यहां बेगमपेट हवाई अड्डे पर एक सभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘‘तेलंगाना के नाम पर जो लोग फले-फूले, आगे बढ़े, सत्ता पायी, वे खुद तो आगे बढ़ गए, लेकिन तेलंगाना को पीछे धकेल दिया। तेलंगाना का जो सामर्थ्य है, तेलंगाना के लोगों की जो प्रतिभा है, उसके साथ यहां की सरकार, यहां के नेता लगातार नाइंसाफी करते रहते हैं।’’
टीआरएस का नाम लिये बिना उस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘जिस दल पर तेलंगाना के लोगों ने सबसे ज्यादा भरोसा किया, उसी दल ने तेलंगाना के साथ सबसे बड़ा विश्वासघात किया है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘जब अंधेरा बहुत बढ़ जाता है, चारों ओर घना अंधेरा हो जाता है, उसी परिस्थिति में कमल का खिलना शुरू हो जाता है। और भोर से ठीक पहले, आज तेलंगाना में भी ऐसे ही कमल खिलता नजर आ रहा है। तेलंगाना में अंधेरा छंटने की शुरुआत हो गई है।’’
हाल ही में हुए उपचुनाव में भाजपा के प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में टीआरएस पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने पूरी तेलंगाना सरकार को एक विधानसभा क्षेत्र (मुनुगोड़े) में ला खड़ा किया है। उन्होंने कहा कि लोगों का आशीर्वाद भाजपा के साथ है।

मोदी ने पिछले दो वर्षों के दौरान दुबक और हुजुराबाद विधानसभा सीट पर उपचुनावों में भाजपा की सफलता का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘हाल के दिनों में, जो भी उपचुनाव हुए थे, संदेश स्पष्ट है कि तेलंगाना में सूर्योदय दूर नहीं है। अंधेरा मिट जाएगा। तेलंगाना में हर जगह कमल खिलेगा।’’
उन्होंने कहा कि उस शहर में अंधविश्वास को बढ़ावा दिया जा रहा है जो सूचना प्रौद्योगिकी के लिए जाना जाता है। उन्होंने कहा, ‘‘हमें तेलंगाना का विकास करना है तो हमें अंधविश्वास से दूर रहना होगा।’’

मोदी ने मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव का परोक्ष रूप से जिक्र करते हुए कहा, ‘‘अब तेलंगाना के लोग एक ऐसी सरकार चाहते हैं जो एक परिवार के बजाय तेलंगाना के सभी परिवारों के लिए काम करे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें भाजपा की सरकार चाहिए।’’
लालकिले की प्राचीर से दिये गये अपने भाषण को याद करते हुए जिसमें उन्होंने परिवारवादी राजनीति के खिलाफ बात की थी, उन्होंने कहा कि देश तेलंगाना में भ्रष्टाचार और परिवारवादी राजनीति के खिलाफ लोगों के गुस्से को देख रहा है।

उन्होंने कहा, ‘‘मैं आज तेलंगाना के लोगों को आश्वस्त करता हूं। गरीबों को लूटने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।’’
उन्होंने कहा कि कुछ लोग खुद को कार्रवाई से बचाने और भ्रष्टों का गठबंधन बनाने के लिए एकजुट होने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन तेलंगाना और देश के लोग इसे देख रहे हैं और समझ रहे हैं कि क्या हो रहा है।
मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार और परिवारवादी राजनीति गरीबों और विकास की सबसे बड़ी दुश्मन है और भाजपा उनके खिलाफ लड़ रही है।

उन्होंने मुफ्त राशन और मुफ्त टीकाकरण अभियान सहित सरकार की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में बताया।
उन्होंने कहा कि तेलंगाना सरकार ने गरीबों के लिए दो ‘बेडरूम’ का घर बनाने की बात की थी, लेकिन प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकानों का निर्माण नहीं होने दिया। उन्होंने कहा, ‘‘आज तेलंगाना प्रगति और तरक्की चाहता है, जो केवल भाजपा दे सकती है।’’

चंद्रशेखर राव ने बेगमपेट हवाई अड्डे पर प्रधानमंत्री की अगवानी नहीं की।
सत्तारूढ़ टीआरएस की विधानपरिषद सदस्य के. कविता ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री तेलंगाना के लिए कुछ भी ठोस घोषणा किए बिना खाली हाथ आए हैं।
चंद्रशेखर राव की बेटी कविता ने कहा, ‘‘आज प्रधानमंत्री मोदी हमारे राज्य में आए। वह खाली हाथ आए। खोखली बातें करने के अलावा, उन्होंने हमारे लिए कुछ भी अच्छा नहीं किया।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.