पीएफआई की छात्र इकाई का नेता बेंगलुरु से गिरफ्तार, गुवाहाटी लाया गया

प्रतिरूप फोटो

Google Creative Commons

असम पुलिस के एक बयान में कहा गया है, ‘असम पुलिस की टीम कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (सीएफआई) के गिरफ्तार नेता आमिर हमजा के साथ बेंगलुरु से गुवाहाटी पहुंच गई है।’

प्रतिबंधित संगठन पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) की छात्र इकाई के नेता आमिर हमजा को बेंगलुरु से गिरफ्तार करने के बाद रविवार को गुवाहाटी लाया गया। असम पुलिस ने यह जानकारी दी।
हमजा को शुक्रवार रात असम पुलिस की एक टीम ने बेंगलुरु से गिरफ्तार किया, जहां वह त्रिपुरा के रहने वाले कुछ परिवारों के साथ छिपा हुआ था।
असम पुलिस के एक बयान में कहा गया है, “असम पुलिस की टीम कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया (सीएफआई) के गिरफ्तार नेता आमिर हमजा के साथ बेंगलुरु से गुवाहाटी पहुंच गई है।”

हमजा को बेंगलुरु के अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट ने तीन दिन की ट्रांजिट रिमांड पर दिया है और उसे (हमजा को) सोमवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट, गुवाहाटी के समक्ष पेश किया जाएगा।
बयान में कहा गया है कि बक्सा जिले में हमजा के घर तलाशी अभियान चलाया गया और कई आपत्तिजनक दस्तावेज एवं पोस्टर बरामद किए गए।
जब्त की गई वस्तुओं में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए), भारतीय जनता पार्टी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के खिलाफ और हिजाब के समर्थन वाले पोस्टर शामिल हैं।

पुलिस के बयान में कहा गया है कि उसके घर से पीएफआई और सीएफआई के ‘लेटरहेड’ और कई बैंकों के पासबुक भी बरामद किए गए।
राज्य के विभिन्न हिस्सों से पीएफआई के अब तक कम से कम 40 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है।
केंद्र सरकार द्वारा पीएफआई पर प्रतिबंध लगाने के बाद पुलिस ने गुवाहाटी के हटीगांव इलाके में संगठन के असम स्थित मुख्य कार्यालय के साथ-साथ करीमगंज और बक्सा में उसके स्थानीय कार्यालयों को सील कर दिया था।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.