नीतीश ने कहा कि राष्ट्रपति पर इस तरह की टिप्पणी करने का अधिकार किसी को नहीं है

प्रतिरूप फोटो

ANI

मुख्यमंत्री पटना के नेहरू पथ स्थित पुनाईचक के समीप नवनिर्मित नेहरू पार्क में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री दिवंगत पंडित जवाहरलाल नेहरू की पुनस्थापित प्रतिमा का अनावरण करने और पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि देने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने द्रौपदी मुर्मू के बारे में पश्चिम बंगाल के मंत्री की असंसदीय टिप्पणी की निंदा करते हुए शनिवार को कहा कि किसी को भी राष्ट्रपति पर इस तरह की टिप्पणी करने का अधिकार नहीं है।
कुमार ने पत्रकारों के सवाल के जवाब में कहा, “ यह गलत है। यह तो आश्चर्य की बात है, कैसे कोई ऐसा बोल सकता है। राष्ट्रपति पर कुछ भी बोलना उचित नहीं है।’’
मुख्यमंत्री पटना के नेहरू पथ स्थित पुनाईचक के समीप नवनिर्मित नेहरू पार्क में भारत के प्रथम प्रधानमंत्री दिवंगत पंडित जवाहरलाल नेहरू की पुनस्थापित प्रतिमा का अनावरण करने और पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि देने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

पश्चिम बंगाल के मंत्री अखिल गिरि ने बृहस्पतिवार को कहा था, ‘‘हम किसी को उनकी उपस्थिति से नहीं आंकते हैं। हम राष्ट्रपति के कार्यालय का सम्मान करते हैं, लेकिन हमारे राष्ट्रपति कैसे दिखते हैं।’’
गिरि की टिप्पणी के बाद व्यापक आलोचना होने पर मंत्री ने इस तरह की टिप्पणी के लिए माफी मांगी।
उन्होंने कहा, “माननीय राष्ट्रपति का अपमान करने का मेरा इरादा नहीं था। भाजपा नेताओं ने मुझ पर मौखिक रूप से हमला करते हुए जो कहा, उसका मैं जवाब दे रहा था। मैं कैसा दिखता हूं इसे लेकर मुझपर हर दिन मौखिक रूप से हमला किया जाता है। अगर कोई सोचता है कि मैंने राष्ट्रपति का अपमान किया है, तो यह गलत है। मैं इस तरह की टिप्पणी करने के लिए माफी मांगता हूं। मेरे मन में अपने देश के राष्ट्रपति के लिए बहुत सम्मान है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.