तेंदुए को बचाने गयी टीम ने मुंह में डाल दी लकड़ी, एक वायरल फोटो ने खड़े किए सवाल

दमोह. दमोह जिले के पड़री गांव में एक तेंदुए के मारे जाने की खबर है. लोगों का कहना है वन विभाग की लापरवाही से उसकी जान गयी. टीम तेंदुए का रेस्क्यू करने गयी थी हालांकि वन विभाग के अधिकारी कह रहे हैं तेंदुआ मरा नहीं बल्कि जंगल में भाग गया.

तेंदुए के हमले में चौकीदार घायल
जानकारी के मुताबिक कुम्हारी थाना परिसर और पड़री गांव के पास तेंदुए की मूवमेंट देखी गई थी. इससे आसपास के इलाके में दहशत का माहौल था. तेंदुए को पकड़ने के लिए दमोह वन विभाग का अमला मौके पर पहुंचा था. उसे जंगल की तरफ खदेड़ने का लगातार प्रयास किया जा रहा था. इस बीच तेंदुए ने वन विभाग के चौकीदार प्रताप लोधी पर हमला कर दिया.

वन विभाग पर आरोप गलत तरीके से रेस्क्यू करने से तेंदुए की मौत
विभाग के अधिकारी कर्मचारी चौकीदार को बचाने में लग गए. इस बीच अमले में से किसी ने तेंदुए के मुंह में लकड़ी डाल दी. इससे तेंदुए की रेस्क्यू के दौरान ही मौत हो गई. तेंदुए के हमले में चौकीदार भी बुरी तरह से घायल हो गया है. उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल ले जाया गया. मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शी युवक खूब सिंह लोधी ने बताया कि रेस्क्यू के दौरान चौकीदार को बचाते समय तेंदुए के मुंह में किसी ने लकड़ी डाल दी थी. उसके बाद तेंदुआ मर गया.

ये भी पढ़ें- इस पेट्रोल पंप पर कैदी रहेंगे तैनात, घबराएं नहीं इत्मिनान से टैंक फुल करवाएं

तेंदुए का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल
घटना के संबंध में इलाके के डिप्टी रेंजर रामजी सिंह से बात की गई. उन्होंने बताया कि तेंदुआ भाग गया उसे पकड़कर जिला मुख्यालय लाया जाएगा. इस पूरे मामले पर वह गोलमोल जवाब देते हुए नजर आए. घटना में वन विभाग पर स्थानीय लोगों ने गंभीर आरोप लगाए हैं. इसके बाद संदिग्ध हालत में चारों पैर बंधे हुए जमीन पर पड़े तेंदुए का फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

Tags: Damoh News, Forest department rescue, Madhya pradesh latest news, Madhya pradesh news, Madhya Pradesh News Updates

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *