तमिलनाडु में बारिश का कहर जारी; निचले इलाकों में भरा पानी

चेन्नई: तमिलनाडु के कई हिस्सों में शनिवार को भारी से बहुत भारी बारिश हुई, जिसके परिणामस्वरूप कुछ जिलों में जलभराव और बांधों में पानी भर गया। राज्य में पिछले एक सप्ताह से लगातार बारिश हो रही है और आने वाले दिनों में भी इसके जारी रहने की संभावना है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार, राज्य में रविवार को भारी से बहुत भारी बारिश होगी और चेन्नई में गरज के साथ बारिश होगी। मयिलादुथुराई जिले के एक इलाके में जलभराव वाली सड़कों के कुछ वीडियो न्यूज एजेंसी ANI ने शेयर किया है जिसमें बारिश की भयावहता दिख रही है।

थेनी बांध में भरा पानी

भारी बारिश के कारण पांच ज़िलों में बाढ़ की चेतावनी के बाद वैगई बांध से अतिरिक्त पानी छोड़ा गया। बांध के एक अधिकारी ने बताया कि थेनी में वैगई बांध से कुल 4,230 क्यूबिक फीट अतिरिक्त पानी छोड़ा गया। कोयंबटूर जिले के बांध भी लगातार पानी के बहाव के बीच उफान पर हैं।

भारी बारिश के बाद थेनी, डिंडीगुल, मदुरै, शिवगंगा और रामनाथपुरम जिलों में बाढ़ का अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विभाग के मुताबिक, चेन्नई के कई हिस्सों और पड़ोसी जिलों कांचीपुरम, तिरुवल्लूर और चेंगलपेट में श्रीलंका तट से दूर बंगाल की खाड़ी में कम दबाव के क्षेत्र के प्रभाव में भारी बारिश हो रही है।

अक्टूबर से दिसंबर का पूर्वोत्तर मानसून का मौसम तमिलनाडु और पुडुचेरी-कराइकल के अलावा अन्य आस-पास के क्षेत्रों के लिए प्राथमिक बारिश का मौसम है। क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के एक अधिकारी के अनुसार, पूर्वोत्तर मानसून के कारण राज्य की राजधानी में औसत से लगभग 20 प्रतिशत अधिक वर्षा हुई।

इस बीच, मौसम कार्यालय ने मछुआरों को दक्षिण आंध्र प्रदेश-उत्तरी तमिलनाडु-पुडुचेरी तटों और दक्षिण-पश्चिम और पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी से सटे इलाकों में नहीं जाने की चेतावनी दी है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.