चीन में लॉकडाउन को लेकर विरोध प्रदर्शन के बीच एप्पल का बड़ा फैसला, प्लांट को लेकर दी ये चेतावनी

Apple production out of China: देश में हाल के विरोध के बीच, विशेष रूप से चीन के झेंग्झौ ‘आईफोन सिटी’ प्लाट (iPhone City plant) में, Apple ने चीन से उत्पादन को स्थानांतरित करने की योजना तेज कर दी है। विरोध प्रदर्शनों ने Apple को अपने उत्पादन को एशिया, विशेष रूप से भारत और वियतनाम में कहीं और स्थानांतरित करने की योजना बनाने के लिए प्रेरित किया।

वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ऐप्पल फॉक्सकॉन टेक्नोलॉजी ग्रुप के नेतृत्व में ताइवान के असेंबलरों पर निर्भरता कम करना चाहता है।

एएनआई ने बताया कि चीन के झेंग्झौ (zhengzhou) ने फॉक्सकॉन द्वारा आईफोन और अन्य एप्पल उत्पाद बनाने के कारखाने में लगभग 300,000 श्रमिकों को रोजगार दिया है। मार्केट रिसर्च फर्म काउंटरपॉइंट रिसर्च के मुताबिक, अकेले झेंग्झौ ने एक समय में आईफोन के प्रो लाइनअप का लगभग 85 प्रतिशत हिस्सा बनाया था।

नवंबर के अंत में झेंग्झौ शहर में फॉक्सकॉन के सबसे बड़े आईफोन प्लांट में हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर साझा किए गए कई पोस्टों में कर्मचारियों को चीन की आईफोन फैक्ट्री में वेतन और शर्तों को लेकर विरोध करते हुए सड़क पर दिखाया गया है।

चीन के झेंग्झौ में फॉक्सकॉन प्लांट में सैकड़ों श्रमिकों ने प्रदर्शन किया। प्लांट में अवैतनिक वेतन और कठोर COVID-19 दिशानिर्देशों की रिपोर्टों से अशांति फैल गई थी। इंटरनेट पर घूम रहे विरोध के कुछ वीडियो में कार्यकर्ताओं को लाठी से सीसीटीवी तोड़ते हुए दिखाया गया है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *