चीन के पूर्व राष्ट्रपति जियांग जेमिन का 96 साल की उम्र में निधन, लंबे वक्त से थे बीमार

हाइलाइट्स

चीन के पूर्व राष्ट्रपति जियांग जेमिन का निधन
96 साल की उम्र में शंघाई में ली अंतिम सांस
लंबे वक्त से ल्यूकेमिया बीमारी से थे पीड़ित

बीजिंग. चीन के पूर्व राष्ट्रपति जियांग जेमिन का बुधवार को निधन हो गया. 96 साल की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली. समाचार एजेंसी शिन्हुआ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, जियांग जेमिन का स्थानीय समय के अनुसार दोपहर 12.13 बजे शंघाई में निधन हुआ. रायटर के अनुसार, जेमिन काफी समय से ल्यूकेमिया बीमारी से पीड़ित थे. उनके शरीर के कई अंगों ने भी काम करने बंद कर दिया था.

न्यूज एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक  पूर्व राष्ट्रपति जियांग जेमिन ने शंघाई में अंतिम सांस ली. कम्युनिस्ट पार्टी, संसद, कैबिनेट और सेना से जुड़े लोगों ने पत्र के जरिए उनके निधन की जानकारी शेयर की.

1989 के नरसंहार के बाद संभाली थी चीन की कमान

बता दें कि जियांग जेमिन ने 1989 के तियानमेन स्क्वायर नरसंहार के बाद चीन की कमान संभाली थी. उन्होंने करीब एक दशक तक शासन किया. कहा जाता है कि जियांग के शासनकाल में तियानमेन स्क्वायर विरोध के बाद कोई बड़ा प्रदर्शन नहीं हुआ था. माना जाता है कि चीन को व्यापार, सैन्य और राजनीतिक शक्ति के रूप उभारने में जियांग ने अहम भूमिका निभाई. जब उन्होंने कमान संभाली थी तो चीन तियानमेन नरसंहार से उबरने की कोशिश कर रहा था. 2003 में जब वे राष्ट्रपति के रूप में हुए, तब तक चीन विश्व व्यापार संगठन का सदस्य बन चुका था.

Jiang Zemin death, Jiang Zemin passed away, Jiang Zemin demise, Jiang Zemin photos, who is Jiang Zemin, Jiang Zemin china, Former Chinese President Jiang Zemin passed away,Jiang Zemin age, Jiang Zemin family, Jiang Zemin news in hindi, china news, जियांग जेमिन का निधन, जियांग जेमिन का शंघाई में निधन

रायटर की रिपोर्ट के मुताबिक जेमिन काफी समय से ल्यूकेमिया बीमारी से पीड़ित थे. (ANI)

ये भी पढ़ें:  Explainer : चीन छोड़ क्‍यों जापान में जा बसे जैक मा, क्‍यों उनके पीछे पड़ी है जिनपिंग सरकार?

कश्मीर मुद्दे पर भी दिया था बड़ा बयान
1996 में जियांग जेमिन ने पाकिस्तान के संसद में दिए अपने संबोधन में कहा था कि अगर कुछ मुद्दों का हल नहीं निकल रहा हो तो उन्हें ठंडे बस्ते में डाल देना बेहतर है. इससे दोनों देशों के बीच सामान्य संबंधों के रास्ते पर आगे बढ़ा जा सकता है. इस बाद पाकिस्तान ने उनके बयान का विरोध भी किया था.

Tags: China government, China news

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *