कैंसर की दवाई पर रिसर्च होने वाला था पूरा, अचानक वैज्ञानिक की हुई मौत, भाई ने जताया शक

अमित श्रीवास्तव/इंदौर: इंदौर के विजय नगर थाना क्षेत्र में स्थित होटल में एक साइंटिस्ट की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई. तबीयत खराब होने पर परिचित उन्हें अस्पताल ले कर पहुंचे थे. जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया. फिलहाल मौत की वजह का पता नहीं चला है.

बता दें कि वैज्ञानिक ब्रजगौरव शर्मा उत्तर प्रदेश के मथुरा के रहने वाले थे. वे इंदौर के सांवेर रोड स्थित गुर्जर लैब में कैंसर पर रिसर्च करने के लिए आते रहते थे. शर्मा प्राइवेट लैब में कैंसर की दवाई पर शोध कर रहे थे. वे पिछले 6 दिन से विजय नगर स्थित एक होटल में रुके हुए थे. तबीयत खराब होने पर उन्हें अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा.

पहले बच्ची को कंधे पर बांधा फिर टंकी में कूद गई महिला, ससुराल वाले देते थे ताने

वहीं, पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है
मृतक के भाई बी.के शर्मा ने बताया कि वैज्ञानिक ब्रजगौरव शर्मा हैदराबाद की एन.बी.आई लाइफ साइंस कंपनी में जनरल मैनेजर की पोस्ट पर थे. वे कैंसर की दवाइयों पर शोध करने के लिए इंदौर आते रहते थे. इस बार भी वे इसी सिलसिले में आए थे. लैब के मालिक ने साढे़ ग्यारह बजे उन्हें सूचना दी थी कि ब्रजगौरव शर्मा की तबियत क्रिटिकल है. उन्हें इंदौर आने के लिए कहा गया. इंदौर पहुंचने पर उन्हें जानकारी मिली कि अस्पताल लाने पर डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था.

भाई ने बताई हत्या!
कैंसर पर रिसर्च के कारण ब्रजगौरव शर्मा अपने करियर में तेजी से आगे बढ़ रहे थे. उनका नाम अमेरिका की जनरल्स बुक्स में प्रकाशित हो चुका है. मृतक के भाई ने बताया कि जल्द ही वह कैंसर की दवाई को लेकर सरप्राइज देने वाले थे. उन्होंने भाई की मौत पर संदेह जताया है. भाई ने बताया कि एक दिन बाद उनका रिसर्च पूरा होने वाला था. ठीक एक दिन पहले मौत होना संदेहास्पद है. भाई ने पुलिस से गुहार लगाई है कि लैब और होटल में लगे. सीसीटीवी फुटेज उन्हें उपलब्ध कराई जाए ताकि मामले की निष्पक्ष जांच हो सके.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.