ओडिशा: बुर्जुग चाचा पर था जादू-टोना करने का शक, भतीजे ने सिर काटकर कर दी हत्या

बारीपदा (ओडिशा). ओडिशा के मयूरभंज जिले में हैरान कर देने वाला एक मामला सामने आया है. यहां 30 वर्षीय एक व्यक्ति ने अपने 60 साल के चाचा की कथित रूप से सिर काटकर हत्या कर दी. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस के मुताबिक, आरोपी को शक था कि उसके पिता की मौत और दूसरे रिश्तेदारों के बीमार होने के पीछे बुजुर्ग का हाथ था. मृतक की पहचान तुंगुरु सिंह के रूप में हुई है, जो आदिवासी समुदाय से आते थे.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना के वक्त तुंगुरु सिंह खूंटा इलाके के सरजामडीही गांव में स्थित अपने घर में अकेले थे. उनकी पत्नी और बहू पास के एक स्टेडियम में हो रहा फुटबॉल मैच देखने के लिए गए हुए थे. लौटने पर उन्होंने सिंह की खून से सनी सिर कटी लाश देखी.

पुलिस ने इस संबंध में हत्या का केस दर्ज अपनी पड़ताल शुरू की तो शक की सूई मृतक के भतीजे बापुन पर गई. पुलिस ने बताया कि बापुन को शुरुआती पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया और उसने हत्या की बात कबूल कर ली है. पुलिस ने बताया, ‘बापून को लंबे समय से अपने चाचा पर जादू-टोना करने का शक था. जमीन जायदाद को लेकर उनके बीच विवाद भी चल रहा था. शुक्रवार को दोनों में झगड़ा हो गया, जिसके बाद बापुन ने सिंह की हत्या कर दी.’

ये भी पढ़ें- पिता को जिंदा करने के लिए नवजात को अगवा कर देने वाली थी बलि, पुलिस ने युवती को पकड़ा

ओडिशा में शख्त कानून के बावजूद अक्सर जादू टोने के शक में हत्या और हमले की घटनाएं सामने आती रहती हैं. इसी साल ओडिशा प्रिवेंशन ऑफ विच हंटिंग एक्ट 2013 के तहत 60 से अधिक केस दर्ज की गई हैं. इनमें से सबसे ज्यादा अपराध आदिवासी बहुल इसी मयूरभंज जिले में रिकॉर्ड हुए.

Tags: Murder case, Odisha news

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.