एलन मस्क का भारत में स्वागत है, लेकिन… ट्विटर के बॉस को गडकरी ने दिया ये खास ऑफर

creative common

परिवहन मंत्री ने कहा कि एलन मस्क का भारत में स्वागत है। हालांकि, यह संभव नहीं होगा अगर वह केवल चीन में निर्माण कर रहे हैं और भारत में मार्केटिंग के लिए रियायत चाहते हैं।’

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को कहा कि टेस्ला बॉस एलन मस्क का भारत में तभी स्वागत है, जब वह देश में निर्माण करना चाहते हैं। एजेंडा आजतक में बोलते हुए परिवहन मंत्री ने कहा कि एलन मस्क का भारत में स्वागत है। हालांकि, यह संभव नहीं होगा अगर वह केवल चीन में निर्माण कर रहे हैं और भारत में मार्केटिंग के लिए रियायत चाहते हैं।’ मंत्री ने कहा, “अगर वह किसी भी भारतीय राज्य में निर्माण करता है तो ही वह रियायत और लाभ प्राप्त कर सकता है।”

परिवहन मंत्री ने कहा कि देश की ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री करीब 7.5 लाख करोड़ की है और वह इसे दुनिया का नंबर 1 मैन्युफैक्चरिंग हब बनाना चाहते हैं। यह उद्योग एकमात्र उद्योग है जो राज्य सरकार और केंद्र को जीएसटी की अधिकतम राशि का भुगतान करता है। मंत्री ने कहा कि भारतीय ऑटोमोबाइल उद्योग ने 4 करोड़ लोगों को रोजगार दिया है। एजेंडा आजतक में नितिन गडकरी ने मर्सिडीज, इलेक्ट्रिक कारों और गुणवत्ता केंद्रित कारों पर भी बात की।

गौरतलब है कि इससे पहले भी भारत की तरफ से टेस्ला को सलाह दी जाती रही है कि भारत में आकर पहले कार बनाए फिर किसी भी छूट पर विचार होगा। गडकरी बताते हैं कि मस्क ने अमेरिका के बाद चीन में टेस्ला की फैक्ट्री डाली है और चाहते हैं कि वहीं कार पूरी तरह से एसेंबल करने के बाद भारतीय बाजारों में बेचा जाए। लेकिन ऐसी संभव नहीं है, अगर उन्हें भारत में कार बेचनी है तो यहीं फैक्ट्री डालें, या फिर जितनी इंपोर्ट ड्यूटी है वो दे दें।   

अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *