इस बात की सजा भुगत रहा पूरा परिवार, गांववालों ने किया बहिष्कार, हुक्का-पानी भी बंद, जानें पूरा मामला

हाइलाइट्स

प्रेम विवाह के मामले में गांववाले ने पूरे परिवार का बहिष्कार कर दिया.
पिटाई, गाली-गलौच और 40000 जुर्माना लगाने का ग्रामीणों पर आरोप.
पीड़ित परिवार ने अपने साथ हुए जुल्म की जानकारी मीडिया से साझा की.

राजनांदगांव. छुरिया ब्लॉक के बखरू टोला गांव में रहनेवाला दामले परिवार साल भर से इस दंश को झेल रहा है. अपना गांव छोड़ इस परिवार को दूसरे गांव की दुकान से राशन सहित अन्य सामग्री लेनी पड़ रही है. वहीं, पुलिस और जनप्रतिनिधि इस मामले पर मदद नहीं कर रहे हैं.

रागा बाई दामले ने बताया कि एक साल पहले उनके बेटे सरोज दामले ने गांव की ही युति राधिका साहू से प्रेम विवाह कर लिया था. जब वे गांव में लौटे तो ग्रामीणों के द्वारा बैठक बुलाई गई और सरोज दामले और राधिका साहू की जमकर पिटाई की गई. साथ ही जाति के आधार पर उनके साथ गाली-गलौच भी की गई. ₹40000 का अर्थदंड भी लगाया गया प्रेम विवाह में साथ देने गांव के पांचवों युवकों पर भी 25-25 हजार रुपए का जुर्माना लगाया गया.

पीड़ित गरीब परिवार ₹40000 नहीं दे पाने की बात कहीं तो पीड़ित परिवार को सार्वजनिक और सामाजिक रूप से बहिष्कार कर दिया गया. सरोज दामले-राधिका साहू ग्रामीणों की डर से बाहर रह रहे हैं. पीड़ित परिवार ने मामले की शिकायत करते हुए देव सागर गुप्ता भूपेंद्र साहू महेंद्र नेटी मोनू गुप्ता भूषण साहू किशोर साहू चरण साहू कुलदीप साहू महेंद्र साहू और दिलीप साहू के नाम लिखित शिकायत दर्ज कराई है.

आपके शहर से (रायपुर)

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़

आज के इस आधुनिक युग में भी इस तरीके का सामाजिक बहिष्कार हमारे सामाजिक जीवन पर प्रश्न चिन्ह उठाता है. साथ ही दबंगों की दबंगई के चलते यह पूरा परिवार बहिष्कृत है. बहरहाल, देखना होगा कि प्रशासन इस मामले में किस तरह की कार्रवाई करता है.

Tags: Chhattisagrh news, Raipur news, Rajnandgaon news, Rajnandgaon Police

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *