आजमगढ़ में मनी पंडित नेहरू की जयंती: आधुनिक भारत के निर्माता ने विश्व में बनाई थी भारत की नई पहचान, स्कूलों में वितरित की गई टॉफियां

आजमगढ़5 मिनट पहले

आजमगढ़ में मनी पंडित जवाहर लाल नेहरू की जयंती, स्कूलों में बच्चों के बीच वितरित की गई टाफियां।

आजमगढ़ जिले में कांग्रेस ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की 133 वीं धूमधाम के साथ मनाई। कांग्रेसियों ने पं नेहरू के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धापूर्वक याद किया और नमन किया। जिला उपाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह के नेतृत्व में आर एन चिल्ड्रेन एकेडेमी स्कूल पर पहुंच कर बच्चों के बीच में बिस्किट टाफियां वितरित कर बच्चों के साथ साथ बाल दिवस मनाया।

आजमगढ़ में पंडित नेहरू के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते कांग्रेस के पदाधिकारी।

आजमगढ़ में पंडित नेहरू के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करते कांग्रेस के पदाधिकारी।

भारत को दिलाई पहचान
कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने कहा कि पंडित नेहरू ने देश की आजादी में जो योगदान दिया उसे भुलाया नहीं जा सकता है। स्वतंत्र भारत के प्रधानमंत्री के रूप मे उन्होने आधुनिक भारत के निर्माण की नींव रखी पंचशील के सिद्धांत के माध्यम से विश्व में शांति की अलख जगाया। देश में अनेक कल कारखाने स्थापित किये देश के उत्थान के लिये उन्होंने अनेक कार्य किये। सशक्त राष्ट्र के रूप में विश्व में भारत की पहचान बनाया। कांग्रेस प्रवक्ता ओंकार पाण्डेय ने पंडित नेहरू को याद करते हुये कहा पं नेहरू जी आधुनिक भारत के शिल्पी थे। स्वतंत्रता के बाद देश के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों का उन्होंने डटकर मुकाबला किया।

पं. नेहरू ने पंचशील के सिद्धांत का प्रणेता बन कर तटस्थ राष्ट्रों को संगठित कर उनका नेतृत्व किया। भारत में औद्योगिक विकास के रास्ते खोले भारत में उन्होंने विज्ञान और तकनीक का ऐसा ढांचा तैयार किया जो बाद में संचार क्रांति का आधार बना। आधुनिक भारत के निर्माण में उनका अहम योगदान रहा। आजादी की लड़ाई में पंडित नेहरू 9 बार जेल गये। भारत को आजाद कराने में उनकी अहम भूमिका थी। इस अवसर पर बड़ी संख्या में कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.