आचार्य कृष्णम ने कहा कि राजस्थान बहुत जल्द एक सुप्रभात देखेगा

प्रतिरूप फोटो

Google Creative Commons

कृष्णम का यह बयान ऐसे समय में आया है जबकि कुछ दिन पहले ही पायलट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बड़ाई किए जाने पर कटाक्ष करते हुये इसे रोचक घटनाक्रम बताया और पार्टी आलाकमान से राज्य में मुख्यमंत्री पद को लेकर अनिर्णय की स्थिति को समाप्त करने का आग्रह किया था।

पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के करीबी माने जाने वाले कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम ने पार्टी आलाकमान द्वारा राजस्थान के संदर्भ में जल्द फैसला किए जाने का संकेत देते हुए शनिवार को कहा कि राजस्थान को बहुत जल्द एक अच्छा सवेरा देखने को मिलेगा।
कृष्णम का यह बयान ऐसे समय में आया है जबकि कुछ दिन पहले ही पायलट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बड़ाई किए जाने पर कटाक्ष करते हुये इसे रोचक घटनाक्रम बताया और पार्टी आलाकमान से राज्य में मुख्यमंत्री पद को लेकर अनिर्णय की स्थिति को समाप्त करने का आग्रह किया था।

कृष्णम ने यहां संवाददाताओं से कहा, मैं इतना कह सकता हूं कि कांग्रेस नेतृत्व का जो फैसला होगा उसे पार्टी का हर विधायक मानेगा और राजस्थान को बहुत जल्द एक अच्छा सवेरा देखने को मिलेगा।
उल्लेखनीय है कि 25 सितंबर को मुख्यमंत्री आवास पर कांग्रेस विधायक दल (सीएलपी) की बैठक बुलाई गई थी। इसे कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव से पहले राज्य में मुख्यमंत्री को बदलने की कवायद के रूप में देखा गया, क्योंकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को अध्यक्ष पद की दौड़ में सबसे आगे माना जा रहा था।

हालांकि, सीएलपी की बैठक नहीं हो सकी क्योंकि गहलोत के वफादार विधायकों ने संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल के आवास पर समानांतर बैठक की और सचिन पायलट को मुख्यमंत्री बनाने के किसी भी संभावित कदम के खिलाफ विधानसभा अध्यक्ष सीपी जोशी को अपना इस्तीफा सौंप दिया।
इस बारे में कृष्णम ने कहा, कांग्रेस पार्टी के जो पर्यवेक्षक यहां आए थे उनमें मल्लिकार्जुन खरगे खुद शामिल थे, अजय माकन भी शामिल थे। जब वे यहां आए तो यहां जो कुछ हुआ उसमें दूसरे को कुछ कहने की जरूरत नहीं है। सब कुछ पार्टी नेतृत्व के संज्ञान में है।
इससे पहले भी कृष्णम सचिन पायलट के समर्थन में बयान दे चुके हैं। कृष्णम ने यहां विधानसभा अध्यक्ष डॉ सीपी जोशी से मुलाकात की।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



अन्य न्यूज़



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.